ए पी में वज़ीफे पर सुबकदोशी की उम्र 60 साल मुक़र्रर

ए पी में वज़ीफे पर सुबकदोशी की उम्र 60 साल मुक़र्रर
आंध्र प्रदेश ने अपने सरकारी मुलाज़िमीन की वज़ीफ़ा हुस्न ख़िदमत पर सुबकदोशी की उम्र को (58) से बढ़ाकर (60) साल करने से मुताल्लिक़ पेश करदा बिल को आंध्र प्रदेश क़ानूनसाज़ असेंबली में मंज़ूरी दे दी गई।

आंध्र प्रदेश ने अपने सरकारी मुलाज़िमीन की वज़ीफ़ा हुस्न ख़िदमत पर सुबकदोशी की उम्र को (58) से बढ़ाकर (60) साल करने से मुताल्लिक़ पेश करदा बिल को आंध्र प्रदेश क़ानूनसाज़ असेंबली में मंज़ूरी दे दी गई।

चीफ़ मिनिस्टर हुकूमते आंध्र प्रदेश एन चंद्रबाबू नायडू ने दोपहर एवान में मज़कूरा बिल को पेश किया था और इस बिल की पीशकशी के ताल्लुक़ से अपना इज़हारे ख़्याल करते हुए चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि रियासत की तक़सीम की रोशनी में देरीना तजरुबेकार मुलाज़िमीन-ओ-ओहदेदारों की ख़िदमात से इस्तेफ़ादा करने के मक़सद से ही ये बिल पेश किया गया है।

जबकि दुनिया के मुख़्तलिफ़ ममालिक में भी यही तरीका-ए-कार अपनाया जा रहा है। चीफ़ मिनिस्टर ने कहा कि हुकूमत और मुलाज़िमीन मिलकर काम करने पर ही बेहतर नताइज की तवक़्क़ो की जा सकती है। चंद्रबाबू नायडू ने रियासत की तक़सीम के ख़िलाफ़ मुलाज़िमीन की तरफ से की गई जद्द-ओ-जहद की ज़बरदस्त सताइश की और कहा कि मुलाज़िमीन हड़ताल की मुद्दत रुख़स्त तसव्वुर की जाएगी। मौज़फ़ मुलाज़िमीन के लिए मकानात की तामीर करवाने की कोशिश करने-ओ-मुस्तक़बिल में बेरोज़गारों को रोज़गार फ़राहम करने के इक़दामात किए जाऐंगे।

चीफ़ मिनिस्टर एन चंद्रबाबू नायडू की तरफ से मुलाज़िमीन की हद उम्र वज़ीफ़ा में इज़ाफ़ा करते हुए पेश की गई बिल को मुत्तफ़िक़ा तौर पर एवान में मंज़ूरी दी गई। इसतरह इस बिल की 24 जून को कौंसिल में पीशकशी और मंज़ूरी के बाद आंध्र प्रदेश के सरकारी मुलाज़िमीन की वज़ीफ़ा हुस्न ख़िदमत पर सबकदोशी की उम्र (60) साल होजाएगी

Top Stories