Wednesday , June 20 2018

ऐवान असेम्बली में बजट मीटिंग का शोर-ओ-गुल के साथ आग़ाज़

हैदराबाद 14 मार्च: आंध्र-प्रदेश क़ानूनसाज़ असेम्बली के बजट मीटिंग का आज शदीद एहतेजाज और नारे बाज़ी के साथ आग़ाज़ हुआ। सालाना मीटिंग के आग़ाज़ पर रिवायती तौर पर मुनाक़िद किए जाने वाले ऐवानेबाला और ऐवाने-ज़ेरीं के मुशतरका मीटिंग मे गवर्नर ई.

हैदराबाद 14 मार्च: आंध्र-प्रदेश क़ानूनसाज़ असेम्बली के बजट मीटिंग का आज शदीद एहतेजाज और नारे बाज़ी के साथ आग़ाज़ हुआ। सालाना मीटिंग के आग़ाज़ पर रिवायती तौर पर मुनाक़िद किए जाने वाले ऐवानेबाला और ऐवाने-ज़ेरीं के मुशतरका मीटिंग मे गवर्नर ई. एस. एल. नरसिम्हन के ख़ुतबा के दौरान अपोज़ीशन अरकान ने ज़बरदस्त ख़लल पैदा किया और ऐवान मे काग़ज़ात फेंकते हुए और नारेबाज़ी करते हुए अपना एहतिजाज दर्ज करवाया।

अरकान ने काग़ज़ात के गोले बनाकर गवर्नर की तरफ़ फेंकना शुरू किया जिसमें से कम अज़ कम तीन गोले उन्हें जा लगे। तेलुगू देशम, सी पी आई और सी पी एम के अरकान ने तेलंगाना राष़्ट्रा समीति के अरकान के गवर्नर के ख़ुतबा और एजंडा की कापियां फाड़ फेंकने मे साथ दिया।

मज़कूरा पार्टियों के एहितेजाजी अरकान ने ये इल्ज़ाम आइद करते हुए कि बर्क़ी क़िल्लत के बाइस पैदा शूदा मसाइल और दीगर अवामी मसाइल की यकसूई में हुकूमत नाकाम रही ख़ुतबा के दौरान ऐवान से वाक ओट किया। इन अरकान ने गवर्नर के ख़ुतबा को झूठ का पुलिंदा क़रार दिया। सदर वाई एस आर कांग्रेस पार्टी विजयम्मा शोर-ओ-गुल के दौरान अपनी नशिस्त पर बैठी रहीं, जबके उनकी पार्टी के अरकान शोर-ओ-गुल करते रहे और कुछ मुख़्तलिफ़ महाज़ों पर गवर्नर की नाकामी पर नाराज़गी का इज़हार करते हुए अपनी नशिस्तों पर खड़े हो गए थे।

टी आर एस के बरहम अरकान ने एवान मे ज़बरदस्त ख़लल पैदा किया। टी आर एस अरकान टी हरीश राव‌ और ई रवींद्र रेड्डी ने कहा कि गवर्नर के ख़ुतबे में तेलंगाना का तज़किरा तक नहीं किया गया है। गवर्नर के ख़ुतबे के दौरान ऐवान जय तेलंगाना और गवर्नर वापिस जाओ के नारों से गूंजता रहा।

गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन ने तेलुगु और अंग्रेज़ी मे दिए गए अपने ख़ुतबे को 30 मिनट में मुकम्मल करलिया। गवर्नर के ख़ुतबे मे इस मर्तबा समाज के महरूम तबक़ात की फ़लाह-ओ-बहबूद का मबसूत तज़किरा करने से गुरेज़ करते हुए सिर्फ़ सरसरी तज़किरा पर इकतिफ़ा किया गया और उन के लिए किए जाने वाले इक़दामात और संजीदा कोशिशों के बारे में सिर्फ़ इतना बताया गया कि इन तबक़ात के लिए मुवाज़ना मे इज़ाफ़ा किया गया और बे ज़मीन गरीबों मे आराज़ीयात की तक़सीम की और दर्ज फ़हरिस्त ओ दर्ज फ़हरिस्त क़बाइल की मख़लूवा जायदादों को पुर करने गैर मुनज़्ज़म शोबे मे काम करने वाले मज़दूरों की तरक़्क़ी हुकूमत की कोशिशों की मज़हर हैं।

गवर्नर ने अपने ख़ुतबे मे हुकूमत के तरक़्क़ियाती-ओ-फ़लाही इक़दामात का तफ़सील से तज़किरा किया और शोबा ज़िराअत और आबपाशी के फ़रोग़ और तवानाई के शोबे मे किए जाने वाले इक़दामात पर रोशनी डाली। उन्होंने किया कि इंदिरा क्रांति पथम के तहत रियासत मे 13.61 लाख सेल्फ हेल्प ग्रुपस के तहत 1.46 करोड़ ख़वातीन को इकट्ठा किया गया और उन ग्रुपस के लिए 5871 करोड़ रुपये का कॉर्प्स फ़ंड रखा गया जबके बैंकों ने इन ग्रुपस को 6,000 करोड़ रुपये की हद तक क़र्ज़े दिये गए। जारिया साल के दौरान 5.68 लाख से ज़ाइद एस एज जी ग्रुपस में 479 करोड़ के क़र्ज़ा जात फ़राहम किए गए। उन्हों ने इद्दिआ किया कि 20 नकाती प्रोग्राम ज़मुरा बंदी में इंसिदाद ग़ुर्बत के तमाम इक़दामात का जामि असर नज़र आरहा है।

उन्होंने कहा कि हैदराबाद मेट्रो रेल पराजकट का काम तेज़ी से जारी है और नागोल मेट्टूगुडा का काम दिसंबर 2014 तक मुकम्मल होने की तवक़्क़ो है।

हुकूमत 1670 करोड़ रुपये लागती 158 किलो मीटर तवील आउटर रिंगरोड की तकमील में तेज़ी ला रही है। गवर्नर ने कहा कि हुकूमत 1670 करोड़ रुपये लागत से कृष्णा से पीने के पानी की सरबराही के तीसरे मरहले की तकमील की अह्दबंद है। गोदावरी से शहर को 176 मिलियन गैलन यौमिया पानी लाने की स्कीम का काम भी तेज़ी से जारी है।

TOPPOPULARRECENT