ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिम यरूशलेम को इज़राइल और पूर्वी यरूशलेम को फिलिस्तीन की राजधानी के रूप में मान्यता दी

ऑस्ट्रेलिया ने पश्चिम यरूशलेम को इज़राइल और पूर्वी यरूशलेम को फिलिस्तीन की राजधानी के रूप में मान्यता दी

सिडनी : ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया पश्चिम यरूशलेम को इजरायल की राजधानी के रूप में मान्यता देती है। मॉरीसन ने एसबीएस ब्रॉडकास्टर द्वारा प्रसारित सिडनी में एक भाषण के दौरान कहा “ऑस्ट्रेलिया अब केसेट और सरकार के कई संस्थानों की सीट होने के कारण पश्चिम यरूशलेम को इज़राइल की राजधानी के रूप में मान्यता देता है। उन्होने कहा पश्चिम यरूशलेम इजरायल की राजधानी है … हम अपने दूतावास को पश्चिम यरूशलेम में ले जाने की उम्मीद करते हैं”।

मॉरिसन ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने पश्चिम जेरूसलम में दूतावास के लिए एक उपयुक्त साइट की पहचान करने के लिए काम शुरू करने का फैसला किया है। इसके अलावा, प्रधान मंत्री ने इज़राइल की प्राथमिकताओं का हवाला देते हुए कहा कि राज्य पश्चिम यरूशलेम में वाणिज्य दूतावास स्थापित नहीं करेंगे बल्कि ऑस्ट्रेलिया वहां एक व्यापार और रक्षा कार्यालय स्थापित करेगा।

प्रधान मंत्री ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया ने पूर्वी जेरूसलम फिलिस्तीनियों की आकांक्षाओं को पहचानते हुए उसकी राजधानी के तौर पर देखते हैं। मॉरिसन ने तर्क दिया कि इस स्थिति ने इजरायल-फिलिस्तीनी संघर्ष और प्रासंगिक यूएनएससी संकल्प के दो राज्य समाधान के लिए ऑस्ट्रेलिया ने अपना सम्मान दिखाया है।

गौरतलब है की मई में, संयुक्त राज्य अमेरिका ने तेल अवीव से अपना दूतावास जेरूसलम स्थानांतरित कर दिया। ब्राजील, चेक गणराज्य, ग्वाटेमाला और होंडुरास ने यरूशलेम को इजरायली राजधानी के रूप में भी मान्यता दी है। इस बीच, संयुक्त राष्ट्र अपने सदस्य राज्यों से राजनयिक मिशनों को यरूशलेम में जाने से बचने के लिए आग्रह भी करता है जब तक शहर की कानूनी स्थिति तय नहीं हो जाती।

Top Stories