ओडिशा के राह पर चला तमिलनाडु, ट्रांसजेंडरों को दिया पुलिस में शामिल होने का हक़

ओडिशा के राह पर चला तमिलनाडु, ट्रांसजेंडरों को दिया पुलिस में शामिल होने का हक़
Click for full image

तमिलनाडु: ओडीशा के बाद तमिलनाडु सरकार ने ट्रांसजेंडरों के हक़ में एक बहुत ही बड़े फैसले का एलान किया है जिसके तहत अब राज्य की पुलिस फोर्स में ट्रांसजेंडर को भी नौकरी मिल पायेगी और वह काम भी कर सकेंगे। तमिलनाडु इस वर्ग को नौकरी देने वाला दूसरा राज्य बन गया है गौरतलब है कि इससे पहले ट्रांसजेंडरों की हित में ऐसा फैसला ओडिशा ने लिया था। हालांकि ओडीशा सरकार ने इस वर्ग को जेलों के सुरक्षा विभाग में नौकरी देना का फैसला किया था। दरअसल जयललिता सरकार ने कॉन्सटेबल के 13,137 पदों को भरने के लिए आवेदन मांगे हैं जिसमें पुरुष और महिलाओं के साथ ट्रांसजेंडर आवेदन कर सकते हैं। विज्ञापन में कहा गया है कि महिलाओं के लिए भर्ती के जो नियम व शर्तें हैं वो सभी ट्रांसजेंडर वर्ग के लिए लागू होंगे। फिजिकल फिटनेस, शैक्षणिक योग्यता से लेकर आरक्षण का फायदा महिलाओं की तरह मिलेगा।
सूत्रों का कहना है कि सरकार ने यह फैसला मद्रास हाईकोर्ट के पिछले साल के आदेश के आधार पर लिया। पिछले साल कोर्ट ने एक ट्रांसजेंडर प्रिथिका यशिनी को भर्ती करने के लिए सरकार को आदेश दिया था। उन्हें नौकरी दी गई थी। वो पहली ट्रांसजेंडर पुलिसकर्मी बन गई थी।

Top Stories