Thursday , December 14 2017

ओडिशा में तूफ़ान का इमकान, चौकसी के अहकाम

भूबनेश्वर 20 मई: ओडिशा में तेज़ तूफ़ान आने का इमकान है। तूफ़ान गुरु न्यू की पेश क़यासी करते हुए महकमा-ए-मौसीमीयत ने कहा कि ये तूफ़ान संगीन हो सकता है। हुकूमत ओडिशा ने 12 अज़ला में अलर्ट जारी किया है और हुक्काम ने कहा है कि वो हंगामी हालात से निमटने के लिए तैयारी करें।

जुनूबी और शुमाली ख़तों में तूफ़ान की शिद्दत पर नज़र रखी गई है। चीफ़ सेक्रेटरी एपी युधि ने अख़बारी नुमाइंदों से कहा कि चीफ़ मिनिस्टर नवीन पटनाइक ने तूफ़ान की सूरत-ए-हाल से निमटने की तैयारीयों का जायज़ा लिया है। उन्होंने तमाम महिकमों को हिदायत दी है कि वो तूफ़ान रोहनो से निमटने के लिए तैयार रहे।

अज़ला के हुक्काम से कहा गया है कि वो तूफ़ान की तबाह कारीयों को कम से कम करने के इक़दामात करें और ग़िज़ाई इंतेज़ामात को यक़ीनी बनाया जाये। तूफ़ान से मुतास्सिरा इलाक़ों में ज़रूरी अश्या की सरबराही के साथ अश्या को तैयार रखा जाये। ओडिशा के साहिल पर तेज़ हवाएं चल रही हैं। ये फ़ी घंटा 100 कीलोमीटर की रफ़्तार से चल रही हैं। ओडिशा डीज़ासटर रैपिड एक्शन फ़ोर्स की 10 टीमें सरगर्म हैं।

सरकारी मुलाज़िमीन की तमाम रुख़स्तों को मंसूख़ कर दिया गया है। महकमा-ए-मौसीमीयत ने पेश क़यासी की है कि तूफ़ान से हुई और मुवासलाती सरबराही को नुक़्सानात की सूरत में बरवक़्त बहाली के इक़दामात किए जाएं। आंध्र प्रदेश में भी तूफ़ान की शिद्दत बढ़ रही है।

तमाम अज़ला में कंट्रोल रूम्स क़ायम किए गए हैं। कलेक्टरस को हिदायत दी गई है कि वो सरकारी मिशनरी की कारकर्दगी को यक़ीनी बनाएँ। ओडिशा के साहिल पर कल तक तूफ़ान की सूरत-ए-हाल संगीन रुख इख़तियार कर सकती है। माहीगीरों से कहा गया है कि वो समुंद्र में ना जाएं।

TOPPOPULARRECENT