ओडिशा में सामने आया नया मामला, कमर की हड्डी तोड़ महिला के शव को बांस पर टांग के ले जाने पर हुए मजबूर

ओडिशा में सामने आया नया मामला, कमर की हड्डी तोड़ महिला के शव को बांस पर टांग के ले जाने पर हुए मजबूर
Click for full image

अभी कल ही ओडिशा के एक गाँव कालाहांडी में कल जहाँ हॉस्पिटल से एम्बुलेंस न मिलने के कारण एक आदमी के अपनी पत्नी की लाश कंधे पर उठा अपने गाँव लेकर जाने की चौकानें वाली खबर सामने आई थी वहीँ आज ओडिशा से एक ऐसी तस्वीर सामने आई हैं जिसमें स्थानीय प्रशासन की लापरवाही का अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। आज बालासोर में स्थित सोरो रेलवे स्टेशन पर एक औरत की लाश को बांस पर लटकाकर ले जाते अस्पताल कर्मचारियों की भी तस्वीर सामने आई। जहां मालगाड़ी की चपेट में आने से 80 वर्षीय विधवा सालामनी बेहेरा की मौत हो गई थी। लाश का पोस्टमार्टम करने के लिए इस घटना की सूचना मिलने पर करीब 12 घंटे बाद जीआरपी लाश को ले जाने पहुंची लेकिन वहां भी एम्बूलेंस नहीं थी। जिसकी वजह से कम्यूनिटी सेंटर के कर्मचारियों ने वृद्धा के लाश की हड्डियों को पहले तो कमर से तोड़ दिया फिर उसे कपड़े में लपेटा और बांस पर टांगकर पोस्टमार्टम के लिए ले गए। सोरो स्टेशन के जीआरपी सब-इंस्पेक्टर प्रताप रूद्र मिश्रा ने बताया कि शव के पोस्टमार्टम के लिए उसे जिस हॉस्पिटल ले जाना था वह कम्यूनिटी सेंटर से करीब 30 किमी दूर है। इसके लिए जब एक आटो ड्राइवर को बुलाया तो उसने वहां जाने के लिए 3500 किराए की मांग की जबकि हमें सिर्फ 1000 रुपये खर्च करने का अधिकार है।

Top Stories