Sunday , December 17 2017

ओपोजीशन को योगी आदित्यनाथ के बयान दिखते हैं, ओवैसी के नहीं : शाहनवाज हुसैन

पटना : भाजपा के क़ौमी तर्जुमान सैयद शाहनवाज हुसैन ने अपने को वजीरे आला ओहदे के दौड़ से अलग करते हुए कहा कि वे किंग नहीं किंग मेकर ही रहेंगे। न तो पहले कभी वजीरे आला ओहदे के दौड़ में थे और न अब हैं।

वे एक चैनल के प्रोग्राम में बोल रहे थे। हुसैन खुलकर नीतीश कुमार, नरेंद्र मोदी , योगी आदित्यनाथ और बिहार से जुड़े मुतनाजे पर भी बोले। खुद को सीएम की रेस से अलग बताते हुए शाहनवाज ने कहा, मैं सिर्फ अकलियत के नाते कोई ओहदा नहीं चाहता।

वजीरे आजम की मजहबी शोबिया को लेकर इल्ज़ाम लगे तो उन्होंने कहा कि पीएम को अगर मसजिद-चर्च में बुलाया जायेगा, तो वह जरूर जायेंगे। उन्होंने कहा कि बिहारियों का यूएसपी उनका दिमाग है। बिहारी दुनिया को मुतासीर कर सकता है लेकिन दुनिया बिहारी को नहीं। इत्तिहाद तोड़ने पर नीतीश को मुजरिम ठहराते हुए कहा कि उन्हें बीजेपी ने हैसियत से ज्यादा दिया तो उनके ख्वाब बढ़ गए।

उन्होंने कहा कि ओपोजीशन को योगी आदित्यनाथ के बयान दिखते हैं, ओवैसी के नहीं। योगी वतन से मुहब्बत करने वाले मुस्लिमों को चाहते हैं। उन्होने कहा कि भाजपा की हुकूमत बनी तो तालीम की सतह को उपर उठाया जाएगा। उन्होंनें कहा कि भाजपा का साथ छोड़ना नीतीश की सबसे बड़ी भूल थी। इंतिख़ाब में फिरकापरस्ती नहीं बल्कि तरक़्क़ी के मुद्दे होंगे।

TOPPOPULARRECENT