ओबलापुरम कानकनी मुक़द्दमा : जनार्धन रेड्डी की ज़मानत मंज़ूर

ओबलापुरम कानकनी मुक़द्दमा : जनार्धन रेड्डी की ज़मानत मंज़ूर
सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के साबिक़ वज़ीर गाली जनार्धन रेड्डी की ज़मानत मंज़ूर करदी। जनार्धन रेड्डी ओबलापुरम कानकनी मुक़द्दमा के मुल्ज़िम हैं। सुप्रीम कोर्ट ने गाली जनार्धन रेड्डी को सी बी आई की तरफ से ये बयान दिए जाने के बाद ज़मानत फ़

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के साबिक़ वज़ीर गाली जनार्धन रेड्डी की ज़मानत मंज़ूर करदी। जनार्धन रेड्डी ओबलापुरम कानकनी मुक़द्दमा के मुल्ज़िम हैं। सुप्रीम कोर्ट ने गाली जनार्धन रेड्डी को सी बी आई की तरफ से ये बयान दिए जाने के बाद ज़मानत फ़राहम की के इस ने जनार्धन रेड्डी से मुताल्लिक़ मुक़द्दमा में तहक़ीक़ात मुकम्मिल करली हैं और चार्च शीट और ज़िमनी चार्च शीट दोनों पेश किए जा चुके हैं।

एजेंसी के बयान को रिकार्ड में शामिल करते हुए चीफ़ जस्टिस एच एल दत्तू की क़ियादत वाली एक बेंच ने कहा कि चूँकि तहक़ीक़ाती एजेंसी को ज़मानत की फ़राहमी में कोई एतेराज़ नहीं है इस लिए हम दरख़ास्त गुज़ार ( जनार्धन रेड्डी ) को ज़मानत फ़राहम करते हैं।

उन्हें दस लाख रुपये फी कस की दो ज़मानतों की तकमील पर जेल से रिहा किया जाएगा और उन्हें अदालत की इजाज़त के बगै़र बैरून-ए-मुल्क सफ़र से रोक दिया गया है।

Top Stories