ओबामा दौर में भी अमेरीकी अवाम परेशान

ओबामा दौर में भी अमेरीकी अवाम परेशान
वाशिंगटन, २० जनवरी (ए एफ़ पी) अमेरीकी अवाम की कसीर तादाद मौजूदा सदर बारक ओबामा की इख़तियार कर्दा पालिसीयों से नाराज़ हैं और उन का ये ख़्याल है कि ओबामा के सदारती ओहदा सँभालने से पहले मुल्क के माली हालात काफ़ी बेहतर थे।

वाशिंगटन, २० जनवरी (ए एफ़ पी) अमेरीकी अवाम की कसीर तादाद मौजूदा सदर बारक ओबामा की इख़तियार कर्दा पालिसीयों से नाराज़ हैं और उन का ये ख़्याल है कि ओबामा के सदारती ओहदा सँभालने से पहले मुल्क के माली हालात काफ़ी बेहतर थे।

वाशिंगटन पोस्ट और ए बी सी टेलीविज़न की जारी कर्दा सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक़ 30 फ़ीसद अवाम का ये ख़्याल है कि जनवरी 2009 को ओबामा के सदर बनने से पहले मुल्क के हालात काफ़ी बेहतर थे जबकि 54 फ़ीसद अवाम का ये ख़्याल है कि पहले और ओबामा दौर में कोई फ़र्क़ नहीं है।

इस सर्वे रिपोर्ट से ये ज़ाहिर होता है कि राय दहिंदगान का झुकाओ रिपब्लिकन पार्टी की तरफ़ है लेकिन अक्सरीयत का ये ख़्याल है कि अमेरीका की मईशत को तबाही के दहाने पर पहूँचाने के लिए ओबामा से ज़्यादा पेशरू सदर जॉर्ज डब्लू बुश ज़िम्मेदार हैं।

54 फ़ीसद लोगों ने इस की तौसीक़ की जबकि सिर्फ 9 फ़ीसद ने ओबामा और बुश दोनों को इस सूरत-ए-हाल के लिए ज़िम्मेदार क़रार दिया।

Top Stories