ओबामा-रुहानी मुज़ाकरातः ईरानी शहर क़िम में अमरीकी पर्चम नज़रे आतिश

ओबामा-रुहानी मुज़ाकरातः ईरानी शहर क़िम में अमरीकी पर्चम नज़रे आतिश
ईरान के इस्लाह पसंद सदर हसन रुहानी की न्यूयार्क में अपने अमरीकी हम मंसब बराक ओबामा से टेलीफ़ोन पर गुफ़्तगु को एक हफ़्ता गुज़र चुका है मगर ईरान में शिद्दत पसंद हल्क़ों की जानिब से इस पर एहतेजाज ठंडा नहीं हो सका।

ईरान के इस्लाह पसंद सदर हसन रुहानी की न्यूयार्क में अपने अमरीकी हम मंसब बराक ओबामा से टेलीफ़ोन पर गुफ़्तगु को एक हफ़्ता गुज़र चुका है मगर ईरान में शिद्दत पसंद हल्क़ों की जानिब से इस पर एहतेजाज ठंडा नहीं हो सका।

क़दामत पसंदों की जानिब से जारी एहतेजाज की लहर तेहरान से निकल कर मुल्क के क़दीम मज़हबी मर्कज़ क़िम तक पहुंच गई है जहां क़दामत पसंदों ने मुशरिकीन से एलान बरात के नाम से ना सिर्फ़ एक ग्रुप तशकील दिया है बल्कि अमरीकी पर्चम भी नज़रे आतिश किया गया है।

क़िम समेत कई शहरों में हुकूमत की पेश्गी इजाज़त के बगै़र किसी किस्म की एहतेजाजी सरगर्मी की इजाज़त नहीं होती, लेकिन जुमेरात को क़दामत पसंदों ने इस पाबंदी की ख़िलाफ़वर्ज़ी करते हुए सड़कों पर निकल कर सदर रुहानी की अमरीका के साथ मुसालहत के लिए सिफ़ारती मसाई के ख़िलाफ़ एहतेजाज किया है।

Top Stories