ओवैसी की राजनीति ने भारत के मुसलमानों को बदनाम किया है- सलमान निज़ामी

ओवैसी की राजनीति ने भारत के मुसलमानों को बदनाम किया है- सलमान निज़ामी
Click for full image

नई दिल्ली। कांग्रेस ने सोमवार को एमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी और अकबरूद्दीन ओवैसी की नफ़रत और सांप्रदायिकता फैलाते हुए भारतीय मुसलमानों को बदनाम करने की निंदा की।

मेवात, राजस्थान में एक रैली में कांग्रेस प्रवक्ता सलमान निजामी ने कहा कि पार्टी के नेताओं और कवि इमरान प्रतागढ़ी की कड़ी मेहनत और धर्मनिरपेक्ष छवि ने नांदेड़ महाराष्ट्र सिविक चुनावों में कांग्रेस की बड़ी जीत में अहम भूमिका निभाई है।

निज़ामी ने एमआईएम को बीजेपी टीम बी बताते हुए कहा कि लोग कांग्रेस के साथ खड़े थे और एमआईएम के बहकावे में नहीं आए। उन्होंने कहा एम आई एम बीजेपी टीम बी इसलिए है क्यूँकि वो मुस्लिमों को बाँट कर शासन करना चाहता है।

एमआईएम अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयासों के बावजूद, कांग्रेस की बेहतरीन छवि को तोड़ नहीं पायी। हमारी जीत इस महान देश के लाखों नागरिकों की जीत है। उन्होंने कहा कि नांदेड़ महाराष्ट्र में कांग्रेस की जीत भारत के लिए आने वाली चीजों की सूची है। निजामी ने कहा, एमआईएम नेता कांग्रेस पर केवल भाजपा को खुश करने के लिए वार कर रहे हैं।

ओवैसी सीधे या अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा और आरएसएस के हर कदम का समर्थन कर रहे हैं। ” एमआईएम नेताओं ने बुनियादी मुद्दों पर चुप रहते हुए मोदी सरकार का समर्थन किया है। वे भावुक भाषणों के माध्यम से मुस्लिम वोटों को विभाजित करने की कोशिश कर रहे हैं।

“मुसलमानों को पता है कि एआईएमआईएम के लिए वोट करने के मतलब भाजपा को वोट देना है। एआईएमआईएम की विशेषता यह है कि वे सत्ताधारी पार्टी का समर्थन करते हैं, चाहे वह कांग्रेस हो या भाजपा और मुसलमान यह जानते हैं।

निजामी ने ओवैसी भाइयों को भाजपा का अजेंट बताते हुए कहा कि उनके पास मुसलमानों के लिए कल्याणकारी योजनाओं पर काम करने के लिए वक़्त नहीं है। वे नफरत और सांप्रदायिकता फैलाते हुए धर्मनिरपेक्ष मुस्लिमों को बदनाम कर रहे हैं।

Top Stories