Sunday , July 22 2018

ओहदेदारों के लिए पार्टियां तालीमी इदारा का फर्नीचर जला कर पकवान

तेलंगाना हुकूमत एक तरफ़ तालीमी इदारों में तमाम बुनियादी सहूलतों की फ़राहमी का दावा कर रही है जबकि दूसरी तरफ़ तालीमी इदारों की अबतर सूरते हाल को देखते हुए हुकूमत के ये दावे खोखले दिखाई दे रहे हैं।

मांसब टैंक में वाक़े गर्वनमेंट इंस्टीटियूट ऑफ़ एडवांस्ड स्टडी इन एजूकेशन में जहां अहम कोर्सेस की तालीम का इंतेज़ाम है वहां नाक़ुस इंतेज़ामात के सबब उम्मीदवारों को कई मसाइल का सामना है।

इमारत की निगहदाश्त पर हुक्काम की अदमे तवज्जो के इलावा इदारा में मुस्तक़िल प्रिंसिपल की अदमे मौजूदगी के सबब मातहत अमले की मनमानी तलबा के लिए मुश्किलात में इज़ाफ़ा का सबब बन रही है।

बताया जाता है कि इमारत की ख़स्ताहाली के इलावा इदारा में फ़र्नीचर की कमी है लेकिन इदारा का अमला आला ओहदेदारों के एज़ाज़ में वक्फ़ा वक्फ़ा से पार्टीयों का एहतेमाम कर रहा है और पकवान के लिए फ़र्नीचर की लकड़ी इस्तेमाल की जा रही है जिस इदारा में फ़र्नीचर को जलाने के लिए इस्तेमाल किया जाये वहां की सूरते हाल की अबतरी का इस से बढ़कर सबूत और क्या हो सकता है।

बताया जाता है कि मौजूदा डिप्टी एजूकेशनल ऑफीसर ने मुस्तक़िल प्रिंसिपल के ओहदा पर मौजूद ओहदेदार को किसी वजह के बग़ैर अलाहिदा कर दिया और एक सुपरिंटेंडेंट को प्रिंसिपल के ओहदा की ज़िम्मेदारी दे दी गई। वज़ीरे तालीम और डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर के सिरी हरी को फ़ौरी इस इदारा का मुआइना करते हुए सूरते हाल में बेहतरी के इक़दामात करने चाहीए।

TOPPOPULARRECENT