Wednesday , November 22 2017
Home / Hyderabad News / ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के लिए महिकमा अक़लियती बहबूद सरगर्म

ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के लिए महिकमा अक़लियती बहबूद सरगर्म

हैदराबाद 03 दिसंबर: तेलंगाना इंडस्ट्रीयल इंफ्रास्ट्रक्चर कारपोरेशन की तरफ से  मनीकोंडा, रायदुर्ग और कूकापेट के इलाक़ों में बड़े पैमाना पर अराज़ी की फ़रोख़त अक़लियती बहबूद ने तवज्जा मर्कूज़ की है।

इन इलाक़ों में बड़े पैमाने पर ओक़ाफ़ी आराज़ीयात की मौजूदगी को देखते हुए सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद सय्यद उम्र जलील ने वक़्फ़ बोर्ड को हिदायत दी के वो कारपोरेशन की तरफ् से फ़रोख़त की गई आराज़ीयात के बारे में तफ़सीलात हासिल करें। उन्होंने चीफ़ एग्जीक्यूटिव ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड से कहा कि इंडस्ट्रीयल कारपोरेशन से रब्त क़ायम करते हुए हराज में फ़रोख़त शूदा आराज़ीयात का सर्वे नंबर हासिल किया जाये और वक़्फ़ रिकार्ड से इस की जांच की जाये।

वाज़िह रहे के तेलुगू देशम दौरे हुकूमत में दरगाह हज़रत हुसैन शाह वली के तहत मौजूद ओक़ाफ़ी अराज़ी को आंध्र प्रदेश इंडस्ट्रीयल इंफ्रास्ट्रक्चर कारपोरेशन को अलाट किया गया था, जिसने मुख़्तलिफ़ मल्टीनेशनल कंपनीयों को अराज़ी अलाट की।

राय दुर्ग, मनीकोंडा और कूकापेट में माबक़ी अराज़ी को तेलंगाना इंडस्ट्रीयल इंफ्रास्ट्रक्चर कारपोरेशन ने दिसंबर में ऑनलाईन हराज के ज़रीये फ़रोख़त कर दिया जिससे कारपोरेशन को करोड़ों रुपये की आमदनी हुई है। मनीकोंडा जागीर की बेशतर अराज़ी दरगाह हज़रत हुसैन शाह वली के तहत वक़्फ़ है और अंदेशा हैके कारपोरेशन ने जो अराज़ी फ़रोख़त की, इस में ओक़ाफ़ी अराज़ी भी शामिल है।

इस सिलसिले में सेक्रेटरी अक़लियती बहबूद ने अज़ ख़ुद कार्रवाई करते हुए हराज की गई अराज़ी की तफ़सीलात हासिल करने की हिदायत दी। वक़्फ़ बोर्ड के ज़रीये इस बात की कोशिश की जा रही हैके खुली अराज़ी को वक़्फ़ बोर्ड की तहवील में देदिया जाये।

TOPPOPULARRECENT