Saturday , May 26 2018

औकाफ़ी जमीनात मुक़द्दमा का अदालतों के बाहर हल तलाश करने पर ज़ोर

रियासत में अक़लीयती बहबूद की स्कीमात पर अमल आवरी और औकाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के इक़दामात का जायज़ा लेने के लिए क़ौमी अक़लीयती कमीशन के रुक्न के एम दारू वाला इन दिनों हैदराबाद के दौरा पर हैं। उन्हों ने मुख़्तलिफ़ अक़लीयती इदारों

रियासत में अक़लीयती बहबूद की स्कीमात पर अमल आवरी और औकाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के इक़दामात का जायज़ा लेने के लिए क़ौमी अक़लीयती कमीशन के रुक्न के एम दारू वाला इन दिनों हैदराबाद के दौरा पर हैं। उन्हों ने मुख़्तलिफ़ अक़लीयती इदारों के सरब्राहों से मुलाक़ात करते हुए कारकर्दगी का जायज़ा लिया।

स्पेशल सेक्रेट्री अक़लीयती बहबूद सय्यद उमर जलील, सदर नशीन रियास्ती अक़लीयती कमीशन आबिद रसूल ख़ान और कमिशनर अक़लीयती बहबूद शेख़ मुहम्मद इक़बाल से मुलाक़ात की और रियासत में अक़लीयती बहबूद की स्कीमात पर अमल आवरी का जायज़ा लिया।

उन्हों ने हुकूमत की जानिब से जारीया मालीयाती साल अक़लीयती बहबूद के बजट को बढ़ा कर 1020 करोड़ किए जाने का ख़ौर मक़दम किया। इस दौरा के सिलसिले में उन्हों ने कल वक़्फ़ बोर्ड का दौरा करते हुए स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड और दीगर ओहदेदारों के साथ बोर्ड की कारकर्दगी का जायज़ा लिया।

उन्हों ने अहम औकाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के लिए बोर्ड की जानिब से की जा रही क़ानूनी जद्दो जहद के बारे में भी मालूमात हासिल की। बाद में नुमाइंदा सियासत से बात-चीत करते हुए जनाब के एम दारू वाला ने बताया कि औकाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के सिलसिले में पुलिस और महकमा माल के अदम तआवुन के सबब वक़्फ़ बोर्ड को बाअज़ दुशवारीयों का सामना है।

रुक्न क़ौमी अक़लीयती कमीशन दारू वाला ने आंध्र प्रदेश में अक़लीयती बहबूद से मुताल्लिक़ स्कीमात और उन पर अमल आवरी पर इतमीनान का इज़हार किया। उन्हों ने कहा कि हुकूमत ने तो बेहतर बजट मुख़तस किया है ताहम उन के मुकम्मल ख़र्च को यक़ीनी बनाना उसी की ज़िम्मेदारी है। उन्हों ने अक़लीयती तलबा को स्कालरशिप और फ़ीस बाज़ अदायगी जैसी स्कीमात की सताइश की।

TOPPOPULARRECENT