Saturday , December 16 2017

पिता की लाश को बांस में लटकाकर ले जाने को मजबूर बेटा

भोपाल : मध्यप्रदेश में दो बेटों को सरकारी विभाग की सहायता के अभाव में अपने पिता की लाश को कपडे में पलेटकर बांस से लटकाकर ले जाना पडा। घटना सेमरिया पुलिस चौकी के पोडी गांव की है। पौडी गांव में रहने वाले बुजुर्ग सियंवर की मौत संदिग्ध हालत में हो गई। इस पर सिंयवर के बेटों ने पुलिस चौकी को इस बारे में इत्तिला किया। चौकी इन्जार्च ने उनको पिता के अंतिम संस्कार से पहने पोस्टमार्टम कराने के निर्देश दिए। सियंवर के दोनों बेटों ने पिता के शव को ले जाने के लिए पुलिस से सहायता मांगी लेकिन उन्होनें मदद नहीं की। इसके बाद दोनों बेटों ने स्थानीय लोगों से भी मदद मांगी लेकिन किसी ने उनकी सहायता नहीं की। इस पर उन्होनें एक कपडे में पिता के शव को लपेटा और उसे बांस से बांधकर पोस्टमार्टम के लिए सेमरिया के सरकारी अस्पताल तक ले गए। वहां पुलिस ने पंचनामा करवाकर पोस्टमॉर्टम करवाया, लेकिन शव को वापस गांव ले जाने की व्यवस्था करने से मना कर दिया।

अस्पताल ने भी शव वाहन उपलब्ध ना होने की बात कही। इसके बाद दोनों बेटे जैसे शव को अस्पताल लेकर आए थे और वैसे ही बांस से लटाकर लेकर गए। एक अखबार की रिपोर्ट के अनुसार बीते 18 सितंबर को स्वास्थ्य मंत्री ने ऐलान किया था कि ऐम्बुलेंस शवों को ले जाने के लिए नहीं हैं, जिसके बाद से सरकारी अस्पताल ऐसी कोई व्यवस्था करने से पीछे हट गए हैं।

TOPPOPULARRECENT