Thursday , May 24 2018

औक़ाफ़ी जायदादों पर क़ब्ज़ों की बर्ख़ास्तगी को अव्वलीन तर्जीह

शेख़ मुहम्मद इक़बाल( आई पी एस) कमिशनर अक़लियती बहबूद ने स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड के ओहदे का जायज़ा हासिल करलिया।

शेख़ मुहम्मद इक़बाल( आई पी एस) कमिशनर अक़लियती बहबूद ने स्पेशल ऑफीसर वक़्फ़ बोर्ड के ओहदे का जायज़ा हासिल करलिया।

उन्होंने बाद नमाज़ जुमा हज हाउज़ में वाक़्ये दफ़्तर वक़्फ़ बोर्ड पहुंच कर अपनी ज़िम्मेदारी सँभाल ली। शेख़ मुहम्मद इक़बाल ने वक़्फ़ बोर्ड के ओहदेदारों के साथ मीटिंग मुनाक़िद किया और बोर्ड की कारकर्दगी का जायज़ा लिया।

इस मौके पर अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि ओक़ाफ़ी जायदादों का तहफ़्फ़ुज़ और नाजायज़ क़ब्ज़ों की बरख़ास्तगी उनकी अव्वलीन तर्जीह होगी।

उन्होंने कहा कि ओक़ाफ़ी जायदादों की आमदनी मंशाए वक़्फ़ के मुताबिक़ इस्तेमाल को यक़ीनी बनाने पर भी तवज्जा दी जाएगी क्यूंकि कई जायदादों के सिलसिले में मंशाए वक़्फ़ की ख़िलाफ़वरज़ी की शिकायात मिली हैं।

एक सवाल के जवाब में शेख़ मुहम्मद इक़बाल ने कहा कि वक़्फ़ बोर्ड की तरफ से पाँच साला मीयाद के दौरान जो अहम फ़ैसले किए गए इन का जायज़ा लिया जाएगा।

अगर किसी मख़सूस मुआमलत के बारे में शिकायत की गई तो हुकूमत इस का जायज़ा लेगी। उन्होंने कहा कि ओक़ाफ़ी जायदादें अल्लाह की अमानत होती हैं और हुकूमत ने इस अहम ओहदे पर उन्हें फ़ाइज़ करते हुए जो तवक़्क़ुआत वाबस्ता की हैं उन पर वो खरा उतरने की कोशिश करेंगे।

उन्होंने कहा कि ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के सिलसिले में जो ज़िम्मेदारी मिली है इस के लिए वो अल्लाह ताआला के शुक्र गुज़ार हैं। वो कमिशनर अक़लियती बहबूद और स्पेशल ऑफीसर जैसे दोनों अहम ओहदों पर अवामी ख़िदमत के जज़बा के साथ फ़ाइज़ हुए हैं। उन्होंने बताया कि ओक़ाफ़ी जायदादों से मुताल्लिक़ जो मुक़द्दमात अदालतों में ज़ेर दौरान हैं वो इन का जायज़ा लेंगे और उनकी बेहतर अंदाज़ में पैरवी को यक़ीनी बनाने के इक़दामात किए जाऐंगे।

TOPPOPULARRECENT