Friday , September 21 2018

कनाडा की साबिका Deputy Prime Minister भी हुई रेप की शिकार!

कनाडा की साबिका डिप्टी प्राईम मिनिस्टर (Deputy Prime Minister) के इस खुलासे ने दुनिया को हिला दिया है कि उनके साथ उन्हीं की पार्टी के MPs ने उनके साथ जिंसी बदसुलूकी किया था। कॉप्स 1993 से 1997 के बीच वज़ीर ए आम ज्यॉं श्रेतें के कैबिनेट में नायब वज़ीर ए आम थ

कनाडा की साबिका डिप्टी प्राईम मिनिस्टर (Deputy Prime Minister) के इस खुलासे ने दुनिया को हिला दिया है कि उनके साथ उन्हीं की पार्टी के MPs ने उनके साथ जिंसी बदसुलूकी किया था। कॉप्स 1993 से 1997 के बीच वज़ीर ए आम ज्यॉं श्रेतें के कैबिनेट में नायब वज़ीर ए आम थीं।

पीर के रोज़ को एक मज़मून लिखकर साबिका नायब वज़ीर ए आज़म शीला कॉप्स ने कहा कि जब वह सियासत में आई थीं तब उन्हीं की पार्टी के एक एमपी ने उन पर जिंसी हमला किया था। कुछ साल बाद एक और एमपी ने उनका रेप किया।

अब 61 साल की हो चुकीं शीला कॉप्स के मुताबिक दोनों हादिसा अलग-अलग वक्त पर अलग-अलग शहरों में हुईं। एक मामला रियासत ओटावा का है जबकि दूसरा टोरॉन्टो का। हफ्तावार अखबार द हिल टाइम्स में लिखे मज़मून में कॉप्स ने बताया कि जब वह 28 साल की थीं और पहली बार एमपी बनी थीं तब उनके साथ एक होटल में पहली बार इस तरह का हादिसा हुआ । ओंटेरियो में ख्वातीन के खिलाफ होने वाली तशद्दुद के मुताआला के एक प्रोग्राम के दौरान होटल में ऐसा हुआ।

कॉप्स ने लिखा है,जब उसने मुझे दीवार की ओर धकेलकर किस करने की कोशिश की तो मैंने उसे वापस धकेल दिया और वहां लात जमाई जहां दर्द होता है। कॉप्स ने कहा कि उन्होंने इस हादिसा की रिपोर्ट पुलिस में नहीं की थी क्योंकि उन्हें लगा कि उन पर हमला करने वाले ने हालात को गलत समझा था। दूसरा हादिसा 30 साल पहले हुई जब एक और जानकार ने उनके साथ रेप किया।

इस मामले के बारे में कॉप्स ने कोई और जानकारी नहीं दी है लेकिन बताया है कि इस हादिसा की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज कराई गई और मुजरिम को इंतेबाह देकर छोड दिया गया।

TOPPOPULARRECENT