Thursday , July 19 2018

कनाडा के प्रधानमंत्री की भारत यात्रा, सिख कट्टरपंथ का मुद्दा उठा सकता है भारत

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की सात दिवसीय भारत यात्रा के दौरान उनकी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ होने वाली बातचीत में कनाडा में सिख कट्टरपंथ के बढ़ने के मुद्दे पर भारत अपनी चिंता जाहिर कर सकता है। कनाडा के प्रधानमंत्री की भारत यात्रा आज से शुरू हो रही है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि भारत के चिंता वाले सभी मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। कनाडा में खालिस्तान समर्थक संगठन के उभरने और ट्रूडो की यात्रा के दौरान इस मुद्दे को उठाए जाने संबंधी सवाल के जवाब में कुमार ने कहा, ” यह एक अहम यात्रा है। द्विपक्षीय हित के सारे मुद्दे एजेंडा में होंगे।

जस्टिन 7 दिनों की यात्रा पर

उनकी इस यात्रा से पहले इसी सप्ताह दोनों देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की यहां बैठक हुई है। कनाडा के राजनयिक सूत्रों ने संकेत दिया कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की बैठक में संभवत: कनाडा के कई हिस्सों में बढ़ते सिख अतिवाद को लेकर भारत की चिंता पर भी चर्चा हुई। सूत्रों ने कहा कि कनाडा के प्रधानमंत्री की भारत यात्रा का मकसद दोनों देशों के कुल संबंधों को और विस्तार देना है। विशेषरूप से दोनों देश रक्षा और सुरक्षा, आतंकवाद से निपटने में सहयोग, व्यापार और निवेश तथा जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर सहयोग बढ़ाने को लेकर विचार विमर्श करेंगे।

TOPPOPULARRECENT