कपिल सिब्बल के खिलाफ पार्टी के भीतर मोर्चा बंदी शुरू, उठी निष्कासन की मांग

कपिल सिब्बल के खिलाफ पार्टी के भीतर मोर्चा बंदी शुरू, उठी निष्कासन की मांग

नई दिल्ली : अयोध्या विवाद को लेकर कांग्रेस में जारी खींचतान गंभीर होती जा रही है। राज्यसभा सांसद कपिल सिब्बल के खिलाफ पार्टी के भीतर मोर्चा बंदी शुरू हो गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अभद्र टिप्पणी करने के अरोप में कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर को पार्टी ने बाहर का रास्ता दिखा दिया। वहीं अब कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल भी पार्टी नेताओं के निशाने पर हैं। अयोध्या विवाद को लेकर कांग्रेस में जारी खींचतान गंभीर होती जा रही है। अल्पसंख्यक विभाग के संयोजक व पूर्व विधायक सिराज मेंहदी ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर सिब्बल पर अपने बयानों से कांग्रेस की छवि को खराब करने का आरोप लगाते हुए निष्कासन की मांग की।

गुरुवार को लिखे पत्र में सिराज मेंहदी ने आरोप लगाया कि सिब्बल का बयान उस समय आया है जब गुजरात में चुनाव चल रहा है और 2018 में कई राज्यों में भी चुनाव होंगे। ऐसे वक्त राज्यसभा सदस्य कपिल सिब्बल ने अदालत में जो दलीलें दी और जो शब्द इस्तेमाल किए हैं, उनसे न देश की जनता सहमत है और न दोनों पक्षकार। सिराज ने कहा कि पार्टी हित में बेहतर हो कि सिब्बल स्वयं ही इस्तीफा दे दें वरना उनको तत्काल कांग्रेस से निकाल देना चाहिए।

उनका कहना था कि कपिल सिब्बल के बयान पर प्रवक्ता रणजीत सिंह सुरजेवाला द्वारा सफाई देने भर से काम नहीं चलेगा कि यह पार्टी का मत नहीं केवल सिब्बल की निजी राय है। उन्होंने सोनिया गांधी से गुजारिश की है कि सिब्बल पर सख्त कार्रवाई की जरूरत है।

कलोल में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम ने कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल पर जमकर हमला बोला। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या मसले पर सिब्बल की दलील पर कहा ‘कांग्रेस नेता किसी भी पक्ष का प्रतिनिधित्व करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। लेकिन वह अयोध्या मसले की सुनवाई टालने की बात कह रह हैं जबकि सभी पक्ष इसका समाधान चाहते हैं।’ पीएम ने कहा है कि आखिर वह क्यों आयोध्या केस की सुनवाई 2019 के बाद करवाना चाहते हैं इसके पीछे की वजह बताने की बजाय वह यह कहने में व्यस्त थे कि वह किसके वकील हैं और किसके नहीं। अगर वह सुन्नी वक्फ बोर्ड का प्रतिनिधित्व नहीं करते तो वह ये बताए कि आखिर वह किसका प्रतिनिधित्व करते हैं? क्यों कांग्रेस उन्हें पार्टी से नहीं निकालती?

Top Stories