Monday , December 18 2017

कमीयूनिसट क़ाइद अल्हाज नुसरत मुही उद्दीन का इंतिक़ाल

हैदराबाद 05 अप्रैल:इन्क़िलाबी जहदकार कमीवनसट क़ाइद मख़दूम मुही उद्दीन के बड़े फ़र्ज़ंद अल्हाज नुसरत मुही उद्दीन का जुमेरात की शाम अचानक क़लब पर हमले की वजहा से इंतिक़ाल होगया।

हैदराबाद 05 अप्रैल:इन्क़िलाबी जहदकार कमीवनसट क़ाइद मख़दूम मुही उद्दीन के बड़े फ़र्ज़ंद अल्हाज नुसरत मुही उद्दीन का जुमेरात की शाम अचानक क़लब पर हमले की वजहा से इंतिक़ाल होगया।

मरहूम नुसरत मुही उद्दीन का सरज़मीन दक्कन के महबान उर्दू में शुमार किया जाता था ।कुल हिंद अंजुमन तरक़्क़ी पसंद मुसन्निफ़ीन अंजुमन तरक़्क़ी उर्दू से वाबस्तगी के बावजूद हिन्दुस्तान भर में उर्दू ज़बान के तहफ़्फ़ुज़ के लिए चलाई जाने वाली तहरीकों में वो हमेशा पेश पेश रहते थे कमीयूनिसट पार्टी आफ़ इंडिया की मुहाज़ी तंज़ीम इंसाफ़ के रियास्ती सेक्रेटरी और सी पी आई स्टेट कौंसिल रुकन की हैसियत से भी उन्हों ने अवामी फ़लाही ख़िदमात अंजाम दिए ।

मरहूम की नमाज़ जनाज़ा 5 अप्रैल बाद नमाज़ जुमा शाही मस्जिद नामपली में अदा की जाएगी और तदफ़ीन मस्जिद यसीन जंग दबीर पूरा में अमल मीनाईगी।

पसमानदगान में बेवा के अलावा दो लड़कीयां हैं । तफ़सीलात के लिए 9949594800,9000005610 पर रब्त करें।एडीटर सियासत जनाब ज़ाहिद अली ख़ां ने जनाब नुसरत मुही अलुद्दीन के इंतिक़ाल पर ताज़ियत का इज़हार किया है ।

TOPPOPULARRECENT