Sunday , January 21 2018

करीमनगर में नौमुंतख़ब सरपंचों की तहनीती तक़रीब

सरपंच का ओहदा इंतिहाई ज़िम्मा दाराना और बावक़ार ओहदा है। देही तरक़्क़ी का दार-ओ-मदार सरपंचों की कारकर्दगी पर ही मुनहसिर है।

सरपंच का ओहदा इंतिहाई ज़िम्मा दाराना और बावक़ार ओहदा है। देही तरक़्क़ी का दार-ओ-मदार सरपंचों की कारकर्दगी पर ही मुनहसिर है।

इन ख़्यालात का इज़हार रियास्ती वज़ीर सिविल स्पलाईज़, डी सिरीधर बाबू ने किया।मुक़ामी कांग्रेस दफ़्तर में कांग्रेस की ज़ेर-ए-क़ियादत नौ मुंख़बा सरपंचों और इमदाद-ए-बाहमी के सदर को तहनियत पेश की गई।

इस तहनीती तक़रीब को मुख़ातब करते हुए सिरीधर बाबू ने सरपंचों को चैक पावर देने के लिए कोशिश का तीक़न दिया। ज़िला मुस्तक़र पर सरपंच भवन की तामीर के लिए एम पी फ़ंड से 10 लाख, इंचार्ज वज़ीर के फ़ंड से 5 लाख रुपये देने का भी मसाई का तीक़न दिया। इस मौके पर रुकन पार्लीमैंट पूनम प्रभाकर, साबिक़ वज़ीर टी जीवन रेड्डी वग़ैरा ने शिरकत कि।

TOPPOPULARRECENT