Monday , December 18 2017

कर्ज़ों की माफ़ी के लिए चंद्रा बाबू नायडू का वाअदा गुमराह कुन

क़ाइद अपोज़ीशन कौंसिल आंध्र प्रदेश सी राम चन्द्रैया ने आर बी आई के इत्तिफ़ाक़ से क़ब्ल कर्ज़ों की माफ़ी के मुआमले में किसानों और ख़्वातीन को गुमराह करने का चीफ़ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश एन चंद्रा बाबू नायडू पर इल्ज़ाम आइद किया।

क़ाइद अपोज़ीशन कौंसिल आंध्र प्रदेश सी राम चन्द्रैया ने आर बी आई के इत्तिफ़ाक़ से क़ब्ल कर्ज़ों की माफ़ी के मुआमले में किसानों और ख़्वातीन को गुमराह करने का चीफ़ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश एन चंद्रा बाबू नायडू पर इल्ज़ाम आइद किया।

आज इंदिरा भवन में प्रैस कान्फ़्रैंस से ख़िताब करते हुए उन्हों ने कहा कि रियासत तक़सीम के दहाने पर थी और तक़सीम की सूरत में आंध्र प्रदेश में माली बोहरान पैदा होने के अंदाज़ा के बावजूद सिर्फ़ इक़्तेदार हासिल करने के लिए मिस्टर नायडू ने किसानों और डाकरा ग्रुप्स की ख़्वातीन से क़र्ज़ माफ़ी का वाअदा किया।

उन्हों ने कहा कि तेलंगाना की सब से पहले ताईद करने वाले मिस्टर नायडू ने तक़सीम के बाद अपने वादों की अमल आवरी में पेश आने वाली दुशवारीयों को मद्दे नज़र रखते हुए आज तक़सीम रियासत पर मगरमच्छ के आँसू बहा रहे हैं और अवाम से किए गए वादों से इन्हिराफ़ करते हुए मआशी बोहरान का बहाना बनाकर कांग्रेस को मौरिद इल्ज़ाम ठहरा रहे हैं।

उन्हों ने कहा कि मिस्टर नायडू सिर्फ़ बयानबाज़ी कर रहे हैं और दीगर जमातों के क़ाइदीन को अपनी पार्टी में शामिल करने पर तवज्जा दे रहे हैं, ताहम अवाम से किए गए वादों पर अमल आवरी के लिए ग़ैर संजीदा हैं।

TOPPOPULARRECENT