Saturday , December 16 2017

कर्नाटक इंतिख़ाबात : कांग्रेस को उम्मीदवारों को क़तईयत देने में मुश्किलात

बैंगलूर, 12 अप्रेल: कर्नाटक असेम्बली इंतिख़ाबात के लिए कांग्रेस पार्टी को अपने 47 उम्मीदवारों को क़तईयत देने में मुश्किलात का सामना है क्योंकि सीनियर पार्टी क़ाइदीन ने Lobbying का सिलसिला जारी रखा है। याद रहे कि कांग्रेस रियासत कर्नाटक क

बैंगलूर, 12 अप्रेल: कर्नाटक असेम्बली इंतिख़ाबात के लिए कांग्रेस पार्टी को अपने 47 उम्मीदवारों को क़तईयत देने में मुश्किलात का सामना है क्योंकि सीनियर पार्टी क़ाइदीन ने Lobbying का सिलसिला जारी रखा है। याद रहे कि कांग्रेस रियासत कर्नाटक की कलीदी अपोज़ीशन जमात है और मुत्तहिदा महाज़ के ज़रिये बी जे पी को रियासत से उखाड़ फेंकने कोशां है।

गुज़िश्ता हफ़्ता 177 उम्मीदवारों का ऐलान किया था जबकि माबकी 47 हलक़ों के लिए उम्मीदवारों के नामों को क़तईयत देने में पार्टी को मुश्किलात का सामना है। जबकि दीगर नशिस्तों के लिए भी रसा कुशी जैसी सूरते हाल में वज़ीर लेबर मल्लिकार्जुन खरगे, साबिक़ वज़ीरे आला धर्म सिंह के बेटे और MSME वज़ीर के एच मुनियप्पा की दुख़तर को टिकिट दिए जाने के मसले ने भी पार्टी की मुश्किलात में इज़ाफ़ा ही किया है।

बहरेहाल अब फ़ैसला सदर पार्टी सोनिया गांधी पर छोड़ दिया गया है। याद रहे कि राहुल गांधी के नायब सदर कांग्रेस के ओहदे पर फ़ाइज़ होने के बाद कर्नाटक वो पहली बड़ी रियासत है जहां इंतिख़ाबात मुनाक़िद हो रहे हैं लिहाज़ा कांग्रेस पार्टी इस नुक्ता को लेकर बेहद हस्सास है कि टिकिट मुस्तहिक़ और साफ़ सुथरी शबिया रखने वाले उम्मीदवारों को दिए जाएं कहीं ऐसा ना हो कि उजलत में कोई ग़लत फ़ैसला होजाए और अवामी ग़ैज़-ओ-ग़ज़ब के इलावा इंतिख़ाबी शिकस्त का मुँह देखना पड़े।

TOPPOPULARRECENT