कर्नाटक चुनाव: मुसलमानों ने कांग्रेस से 26 सीटों की मांग की, कहा- ‘आबादी के हिसाब से बनता है’

कर्नाटक चुनाव: मुसलमानों ने कांग्रेस से 26 सीटों की मांग की, कहा- ‘आबादी के हिसाब से बनता है’

कांग्रेस के मुस्लिम नेता अपने समुदाय को अधिक सीटें देने के लिए पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व पर दवाब बना रहे हैं। वे चाहते हैं कि राज्य में उनकी आबादी के दृष्टिगत उन्हें कम से कम 26 सीटें दी जानी चाहिए।

पिछले विधान सभा चुनावों में उन्होंने 24 सीटों की मांग की थी, लेकिन उनकी पार्टी ने 19 मुस्लिम उम्मीदवार ही मैदान में उतारे थे। जिनमें से मुस्लिम प्रत्याशी 9 सीटें ही जीत सके थे।

माध्यमिक शिक्षा मंत्री तनवीर सेठ का कहना ही कि पिछली बार कांग्रेस पार्टी ने कुछ मुस्लिम उम्मीदवार ऐसे चुनाव क्षत्रों से उतारे थे, जहां से उनके जीतने की बिल्कुल उम्मीद नहीं थी। गलत चयन की वजह से कुछ मुस्लिम उम्मीदवारों की जमानत तक जब्त हो गई थी।

सेठ का कहना है कि इस बार उम्मीदवारों और उनके चुनाव क्षेत्र का चयन मुस्लिम नेताओं के साथ सलाह मशविरे से ही किया जाना चाहिए। ताकि ऐसे ही उम्मीदवार चुनाव मैदान में हों, जिनके विजयी होने का पूरा चांस हो।

इन नेताओं के अनुसार वे ऐसे चुनाव क्षेत्रों और उम्मीदवारों की सूची बना रहे हैं। जहां से उनके समुदाय के उम्मीदवार मैदान में उतारे जाएं। इन पर आधारित एक ज्ञापन अगले एक दो दिन में पार्टी के राज्य और केंद्रीय नेताओं को दिया जाएगा।

राज्य में मुस्लिम आबादी कुल आबादी का लगभग 12 प्रतिशत है। लेकिन कांग्रेस के मुस्लिम नेताओं का कहना है टिकटों के बंटवारे में उनके साथ कभी भी न्याय नहीं हुआ और उनके दावे को दरकिनार कर दिया गया।

राज्य में ईसाई समुदाय और जैन समुदाय भी अधिक टिकटें मांग रहे हैं। पिछली बार पार्टी ने दो ईसाई उम्मीदवार खड़े किए थे और दोनों जीते थे। इसी प्रकार दो जैन उम्मीदवार मैदान में उतारे और दोनों जीतने में सफल रहे थे।

Top Stories