Saturday , July 21 2018

कर्नाटक चुनाव: हिन्दुत्व मुद्दे को बड़ी चालाकी से ले रही है कांग्रेस, बीजेपी को दे रही है मात!

कर्नाटक में राज्य विधानसभा के चुनावों में भाजपा द्वारा उठाए जा रहे हिन्दुत्व के मुद्दे का मुकाबला करने के लिए सत्ताधारी कांग्रेस ने भी ‘नरम हिन्दुत्व’ पर ध्यान केन्द्रित करना शुरू कर दिया है।

दक्षिण कर्नाटक के क्षेत्र में कांग्रेस ने नरम हिन्दुत्व का मुद्दा उठाया हुआ है पहले ही ङ्क्षलगायत समुदाय का समर्थन हासिल कर कांग्रेस ने भाजपा को हिन्दुत्व के मुद्दे पर पीछे हटने के लिए विवश कर दिया था।

नरम हिन्दुत्व के मुद्दे को उठाते हुए सबसे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने कर्नाटक के चुनावी दौरों के दौरान प्रत्येक मंदिर व मठों का दौरा किया है। राहुल का अनुसरण करते हुए अब कांग्रेसी विधायक भी नरम हिन्दुत्व के मुद्दे को अपनाए हुए हैं तथा वे भी प्रत्येक मंदिर तथा महत्वपूर्ण मठों के दौरे करने में लगे हुए हैं।

राज्य सरकार ने टीपू सुल्तान की जन्म शताब्दी समारोह का भी आयोजन किया। ऐसा करभी उन्होंने नरम हिन्दुत्व की तरफ बढऩे के संकेत दिए। दक्षिण कर्नाटक में पड़ते अनेक जिलों में हिन्दु समुदाय के लोगों की बहुगिनती है। इन क्षेत्रों में भाजपा हिन्दुत्व के मुद्दे को जोर-शोर से उछाल रही थी।

दक्षिण कर्नाटक के विभिन्न जिलों जैसे मंगलूर में भाजपा तथा कांग्रेस के बीच में हिन्दु समुदाय के लोगों को लुभाने की होड़ लगी हुई है। कांग्रेस ने भी दो कदम आगे बढ़ते हुए भाजपा के हिन्दुत्व के प्रभाव को रोकने में कामयाबी हासिल की है।

अभी तक गैर-भाजपा पाॢटयां हिन्दुत्व के मुद्दे से दूर रही थीं परन्तु अब नरम हिन्दुत्व के मुद्दे को उठाकर कांग्रेस ने अपनी चुनावी संभावनाओं को और मजबूत करने की कोशिशें की हैं।

कांग्रेस ने अभी अपने उम्मीदवारों का ऐलान करना है परन्तु उसके अधिकांश उम्मीदवार व मौजूदा विधायक अपनी टिकटों के प्रति आश्वस्त हैं तथा वह नरम हिन्दुत्व के तहत प्रत्येक मंदिर व मठ का दौरा कर रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT