Saturday , August 18 2018

कर्नाटक में ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के इक़दामात

बीदर, १४ जनवरी,( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) जनाब अनवर मानपटरी चेयरमैन कर्नाटक स्टेट अक़ल्लीयती डेवलप्मेंट कमीशन ने कहा है कि कर्नाटक स्टेट वक़्फ़ बोर्ड रियासत भर में ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ और उन की निगहदाशत के मुआमला में पू

बीदर, १४ जनवरी,( सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़) जनाब अनवर मानपटरी चेयरमैन कर्नाटक स्टेट अक़ल्लीयती डेवलप्मेंट कमीशन ने कहा है कि कर्नाटक स्टेट वक़्फ़ बोर्ड रियासत भर में ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ और उन की निगहदाशत के मुआमला में पूरी तरह नाकाम हो चुका है।

अपनी आँखों पर बज़ात-ए-ख़ुद कपड़ा बांध कर उन लोगों ने लैंड ग्रैबर्स की मदद की है, हम ने रियासत भर का दौरा करने के बाद ये नतीजा अख़ज़ किया है कि बेईमान लोग ओक़ाफ़ी इदारा जात में आकर ओक़ाफ़ी जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ के नारे लगा रहे हैं। इस लिए हम ने मौजूदा वक़्फ़ बोर्ड को तहलील करने की हुकूमत से
सिफ़ारिश की है।

जनाब मानीटरी डिप्टी कमिशनर ऑफ़िस बीदर में एक अवामी इजलास को मुख़ातब कररहे थे। उन्हों ने बताया कि इन के पहले दौरा बीदर के मौक़ा पर ज़िला वक़्फ़ कमेटी बीदर के ओहदेदारान ने कमीशन के साथ ना तो कोई तआवुन किया और ना ही दस्तावेज़ात पेश किए।ज़िला इंतिज़ामीया बीदर ने दो मर्तबा ओक़ाफ़ी जायदादों का सर्वे करना चाहा मगर ज़िला वक़्फ़ कमेटी ने उन के साथ भी कोई तआवुन नहीं किया, उन के ख़िलाफ़ मुनासिब क़ानूनी कार्रवाई की जाएगी और वक़्फ़ इमलाक की हुकूमत को रिपोर्ट पेश की जाएगी।

उन्हों ने बताया कि वो ज़िला बीदर के तमाम ताल्लुक़ा जात का दौरा कर चुके हैं।
चेयरमैन कमीशन ने बताया कि क़मर उल-इस्लाम, तनवीर सेठ और एन ए हारिस गुलबर्गा, मैसूर और बैंगलौर में ओक़ाफ़ी जायदादों पर क़बज़ा किए हुए हैं। इन लोगों ने जिन ओक़ाफ़ी जायदादों पर क़बज़ा किया है चेयरमैन कमीशन ने इन का सर्वे नंबर बताने से गुरेज़ किया और कहा कि सर्वे का काम जारी है, तमाम
तफ़सीलात सर्वे होने के बाद दी जाएंगी।

मौसूफ़ ने अपने दौरा बीदर के मौक़ा पर मस्जिद शाह ख़ामोश, आशूर ख़ाना नूर ख़ान तालीम और दरगाह हज़रत मख़दूम जी कादरी चदरी रोड बीदर का मुआइना किया जहां नाजायज़ क़बज़े किए गए हैं लिहाज़ा उन का सर्वे करके फ़ौरी क़बज़ा करदा इमलाक को वापस लेने के इक़दामात किए जाएंगे। चेयरमैन कमीशन ने अपने दौरा ताल्लुक़ा औराद का तज़किरा करते हुए बताया कि जिस तरह ज़िला के दीगर ताल्लुक़ा जात में ओक़ाफ़ी जायदादों पर क़बज़े किए गए ठीक इसी तरह औराद में भी नाजायज़ क़बज़े हुए हैं। उन्होंने बताया कि ताल्लुक़ा औराद में एक सौ से ज़ाइद उर्दू मीडियम असातिज़ा की जायदादें ख़ाली हैं।

बी आर जी एफ़ स्कीम के तहत उन को पर करने के इक़दामात किए जाएंगे। उन्हों ने हिदायत दी कि वो अज़ला गुलबर्गा, यादगीर्, राइचोर और कोप्पल के असातिज़ा केलिए अख़बारात में इश्तिहारात शाय करवाए। उन्होंने यक़ीन दिलाया कि अंदरून दस यौम वाक इंटरव्यू का एहतिमाम करके असातिज़ा के तक़र्रुत को यक़ीनी बनाया जाएगा। उन्हों ने मज़ीद बताया कि सुप्रीम कोर्ट के अहकामात की रोशनी में रियासत के किसी भी मुक़ाम पर ओक़ाफ़ी जायदाद की एक इंच पर भी नाजायज़ क़बज़ा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

ओक़ाफ़ी जायदादों के सिलसिला में तआवुन करने पर उन्हों ने डिप्टी कमिशनर, एस पी और तहसीलदार वग़ैरा से इज़हार-ए-तशक्कुर करते हुए कहा कि ओक़ाफ़ी इमलाक को नाजायज़ क़बज़ा जात से पाक करके बीदर को एक मॉडल ज़िला बनाया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT