कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार रहेगी या जाएगी, आज हो सकता है फैसला

कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार रहेगी या जाएगी, आज हो सकता है फैसला

कर्नाटक में जनता दल सेक्यूलर और कांग्रेस की गठबंधन सरकार रहेगी या जाएगी, इसका फैसला सोमवार को हो सकता है. कर्नाटक विधानसभा में आज फ्लोर टेस्ट होना है. जेडीएस-कांग्रेस के 15 विधायकों के इस्तीफे के साथ इस गठबंधन की सरकार पर सवाल उठ रहे हैं. इन सवालों का जवाब आज मिल सकता है.

कुमारस्वामी ने विधायकों के साथ की बैठक
मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की ओर से पेश विश्वास मत पर सदन में चर्चा होगी. कुमारस्वामी ने अपनी सरकार बचाने के लिए आखिरी कोशिश के तहत रविवार को गठबंधन के विधायकों से बेंगलुरु स्थित ताज होटल में बैठक की. वहीं, फ्लोर टेस्ट से पहले बीजेपी प्रमुख बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि सोमवार को कुमारस्वामी सरकार का आखरी दिन साबित होगा.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने बागी विधायकों से वापस लौटने और सदन में चर्चा के दौरान भाजपा को बेनकाब करने की अपील की. हालांकि बागी विधायकों ने सत्र में हिस्सा लेने की संभावना खारिज कर दी है.

‘संविधान के सिद्धांतों को पलट रही BJP’
कुमारस्वामी ने कहा, “विश्वासमत पर चर्चा के लिए समय लेने का मेरा इरादा केवल यह है कि पूरा देश यह जान सके कि नैतिकता की बात करने वाली भाजपा लोकतंत्र के साथ ही संविधान के सिद्धांतों को पलटना चाहती है.”

बता दें कि जेडीएस के 15 बागी विधायकों और दो निर्दलीय विधायकों ने विधानसभा में सोमवार को शक्ति परीक्षण करने का आदेश देने की मांग करते हुए रविवार को सर्वोच्च न्यायालय में एक संयुक्त याचिका दायर की थी. याचिकाकर्ता विधायकों ने अदालत से विधानसभाध्यक्ष के. आर. रमेश और मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी को सोमवार को शाम पांच बजे तक विश्वास मत का आयोजन करने का निर्देश देने की मांग की थी.

शाम 5:00 बजे से पहले शक्ति परीक्षण की मांग
प्रदेश के 15 बागी और दो निर्दलीय विधायकों ने अपनी संयुक्त याचिका में कहा, “हम मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी द्वारा 18 जुलाई को कर्नाटक विधानसभा में लाए गए विश्वास मत प्रस्ताव पर 22 जुलाई को शाम पांच बजे से पहले शक्ति परीक्षण करने का निर्देश देने की मांग करते हैं.”

मालूम हो कि राज्यपाल कर्नाटक विधान सभा के स्पीकर को पहले दो बार विश्वास मत के लिए समय सीमा दे चुके हैं, लेकिन अब तक विश्वास मत नहीं हो पाया है. इस बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने बसपा के इकलौते विधायक से कुमारस्वामी सरकार बचाने के लिए वोट देने को कहा है.