Thursday , August 16 2018

कर्नाटक में मुस्लिम मसाइल की यकसूई के लिए चीफ़ मिनिस्टर से नुमाइंदगी

बिदर्, ‍२१ जनवरी(सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ )वज़ीर-ए-आला सदानंद गौड़ ने मुस्लिम लेजिसलेचर्स फ़ोर्म के वफ़द को यक़ीन दिलाया हीका कर्नाटक के स्कूल्स के निसाब में तमाम मज़ाहिब के रहनुमाओं ,मुफ़क्किरीन और क़ाइदीन से सला

बिदर्, ‍२१ जनवरी(सियासत डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ ) डिस्ट्रिक्ट न्यूज़ )वज़ीर-ए-आला सदानंद गौड़ ने मुस्लिम लेजिसलेचर्स फ़ोर्म के वफ़द को यक़ीन दिलाया हीका कर्नाटक के स्कूल्स के निसाब में तमाम मज़ाहिब के रहनुमाओं ,मुफ़क्किरीन और क़ाइदीन से सलाह-ओ-मश्वरा के बगै़र भगवत गीता के पाठ शामिल नहीं किए जाऐंगे । लेजिसलेचर्स फ़ोर्म के वफ़द ने बुज़ुर्ग कांग्रेसी रहनुमा जनाब सी के जाफ़र शरीफ़ की ज़ेर क़ियादत वज़ीर-ए-आला सदानंद गौड़ उसे मुलाक़ात की और अक़ल्लीयती उमूर से जुड़े हुए चंद अहम मसाइल उन के सामने पेश किए । वज़ीर-ए-आला से मुलाक़ात के बाद उर्दू मीडीया के नुमाइंदों से गुफ़्तगु करते हुए मुस्लिम लेजिसलेचर स फ़ोर्म के सदर क़मर उल-इस्लाम रुकन असेंबली और सेक्रेटरी अबदुल अज़ीम एम एल सी ने बताया कि वज़ीर-ए-आला ने पूरी तवज्जा के साथ फ़ोर्म के पेश कर्दा मसाइल को सुना । भगवत गीता के पाठ निसाब में शामिल किए जाने के वज़ीर-ए-आला के ब्यान पर ईज़हार-ए-तशवीश करते हुए जब वफ़द ने कहा कि तमाम मज़ाहिब की किताबों में इंसानियत और भाई चारगी का ही दरस होता है । ऐसे में दीगर तमाम मज़ाहिब की किताबों को छोड़कर सिर्फ भगवत गीता के पाठ शामिल करने से सैक्यूलर इमेज ख़राब होगी और ये सैक्यूलर ज़म की सरासर ख़िलाफ़वर्ज़ी होगी ।

जिस पर वज़ीर-ए-आला ने कहा कि उन्हें एहसास है कि ये एक हस्सास मुआमला है वो ऐसा कोई फ़ैसला करने से क़बल तमाम मज़ाहिब के मज़हबी क़ाइदीन से मश्वरा और राय ज़रूर हासिल करेंगे मुस्लिम वफ़द ने कहा कि साबिक़ वज़ीर आली एड वीरप्पा के दौर में वज़ीर-ए-आला और साबिक़ रियास्ती वज़ीर प्रोफेसर मुमताज़ अली ख़ान ने ये वायदा किया था कि वक़्फ़ बोर्ड की जायदादों के तहफ़्फ़ुज़ केलिए एक अलहदा टास्क फ़ोर्स तशकील दिया जाएगा मगर अब तक उस की तशकील अमल में नहीं आई जिस पर वज़ीर-ए-आला ने यक़ीन दिलाया कि वो इस जानिब ख़ुसूसी तवज्जा देंगे कर्नाटक पब्लिक सरविस कमीशन में मुस्लिम नुमाइंदगी देने के मसला पर उन्हों ने वायदा किया कि अगले माह एक रुकन की मयाद ख़तम् होने जा रही है और उन के सामने नए रुकन की नामज़दगी से मुताल्लिक़ फाईल आई हुई है वो इस पर ग़ौर कर के कोशिश करेंगे कि रियासत की 13.5 फ़ीसद अक़ल्लीयती आबादी केलिए नुमाइंदा के तौर पर किसी मुस्लमान को के पी सी सी की रुकनीयत देंगे ।

सिंदगी में पाकिस्तानी पर्चम लहराए जाने के मुआमला में वज़ीर-ए-आला से मुतालिबा किया गया कि इस मुआमला की मर्कज़ी एजैंसी के ज़रीया जांच करवाई जाय कि कहीं राम सेना का ताल्लुक़ पाकिस्तानी दहश्तगर्द तंज़ीमों से तो नहीं है वज़ीर-ए-आला ने कहा कि वो इस मुआमला की मुम्किन जांच करायेंगे । मुस्लिम लेजीसलेचर्स फ़ोर्म के इस वफ़द में जनाब सी के जाफ़र शरीफ़ के हमराह सदर फ़ोर्म क़मर उल-इस्लाम सेक्रेटरी अबदुल् अज़ीम नसर अहमद और तनवीर सेठ शामिल थे ।

TOPPOPULARRECENT