“कर्नाटक में सरकार गिरना लोकतंत्र के लिए काला दिन”

“कर्नाटक में सरकार गिरना लोकतंत्र के लिए काला दिन”

कर्नाटक विधानसभा में फ्लोर टेस्ट पास करने में कुमारस्वामी सरकार असफल रही. कर्नाटक में कुमारस्वामी की नेतृत्व वाली कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन की सरकार गिर गई. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने सरकार गिरने को लोकतंत्र का काला दिन बताया.

महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट कर कहा, ‘मुंबई में कर्नाटक के सांसदों को प्रभावित करने के लिए भव्य आयोजन किया गया. उन्हें ठहरने के लिए पैसे दिए गए. तो कर्नाटक में एचीडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली कांग्रेस-जेडीएस सरकार को कौन बचा सकता था? यह लोकतंत्र के लिए एक काला दिन है जब एक ऐसा देश जो दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र होने का गर्व करता है, एक निर्वाचित सरकार को गिरते देखता है.’

वहीं, महबूबा मुफ्ती के ट्वीट पर उमर अब्दुल्ला ने कहा कि यह लोकतंत्र की मौत है. भले ही यह गठबंधन अवसरवादी हो लेकिन इसी ने एक अन्य पार्टी को सरकार बनाने का मौका दिया है.

बता दें कि मंगलवार को एचडी कुमारस्वामी ने विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया था. विश्वास मत के पक्ष में 99 वोट पड़े जबकि विरोध में 105 वोट पड़े. इसके बाद कुमारस्वामी ने राज्यपाल के पास जाकर इस्तीफा दे दिया. जिसे कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने स्वीकर कर लिया.

Top Stories