Wednesday , December 13 2017

कलक्टर की जानिब से दावत इफ़तार

ज़िला कलक्टर सुमीता सभरवाल ने कहा कि हिन्दू और मुस्लमान आपस में प्यार-ओ-मुहब्बत से मिल जल कर रहना चाहीए, मेल मिलाप से अमन-ओ-अमान बरक़रार रहता है और तरक़्क़ी की राहें हमवार होती हैं।

ज़िला कलक्टर सुमीता सभरवाल ने कहा कि हिन्दू और मुस्लमान आपस में प्यार-ओ-मुहब्बत से मिल जल कर रहना चाहीए, मेल मिलाप से अमन-ओ-अमान बरक़रार रहता है और तरक़्क़ी की राहें हमवार होती हैं।

ज़िला इंतिज़ामीया की जानिब से मुस्लिम-ओ-ग़ैर मुस्लिम भाईयों के लिए कलक्ट्रेट आयटोरीम में दावत इफ़तार का एहतिमाम किया गया था जिस में मुस्लिम-ओ-ग़ैर मुस्लिम अफ़राद की बहुत बड़ी तादाद शरीक थी।

ज़िला कलक्टर की जानिब से दी गई दावत इफ़तार में ज़िला कलक्टर ने मुख़ातब करते हुए मुस्लिम भाईयों को रमज़ान की मुबारकबाद देते हुए रोज़ा दारों से ख़ाहिश की कि वो भाई चारगी,अमन-ओ-अमान की बरक़रारी के लिए दुआ-करें।

और कलक्टर सुमीता सभरवाल की कारकर्दगी और दूर अंदेशी के इलावा मुस्लमानों के जज़बात का एहतिराम, करीमनगर में सड़क की तौसीअ में क़दीम ईदगाह का एहतिराम करने पर उन की सताइश की गई।

TOPPOPULARRECENT