Monday , December 11 2017

कलाम ने कभी गरीब बच्चों को अहमियत नहीं दी: आजम खां

कलाम ने कभी गरीब बच्चों को अहमियत नहीं दी: आजम खा

लखनऊ। देश जब पूर्व राष्ट्रपति मिसलमैन डॉक्टर एपीजे कलाम का जन्मदिन मनाने की तैयारी में है । सपा के बड़े नेताओं में एक आजम खा ने उनकी यह कहकर कड़ी आलोचना की है कि वे जरूर गरीब के बेटे थे, पर हमेशा बड़े आदमियों के बीच रहे। वे गरीब बच्चों के बीच कभी नहीं गए। मजेदार बात यह कि आजम यूपी सरकार का हिस्सा हैं और सरकार कलाम को सूबे को रोल मॉडल मानती है।

सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री आजम खां रविवार को रामपुर में गांधी समाधि पर ध्वजारोहण के बाद एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मुसलमानों की हालत दलितों से भी बदतर है।मुसलमानो को आरक्षण दे दिया जाए तो हम भाजपा के पीछे चलने को तैयार हैं।
उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति तथा वैज्ञानिक एपीजे अब्दुल कलाम की आलोचना करते हुए कहा कि कलाम भले बहुत गरीब परिवार से थे, वह बड़े लोगों के बीच ही जाते थे। आजम ने कहा कि एपीजे कलाम बड़े लोगों के स्कूलों में अमीर बच्चों के बीच में ही गए। वह गरीबों के स्कूलों में नहीं गए। आजम ने कहा कि हमने बहुत प्रयास किया कि वह एक बार गरीब बच्चों के स्कूल में उनके बीच आएं लेकिन वह नही आए। अलग बात है कि कलाम मदरसों के बच्चों से भी मिलते रहे हैं। शायद यह बात आजम खाँ को पता नहीं। बता दें 15 अक्टूबर को कलाम का जन्मदिन है।

TOPPOPULARRECENT