Tuesday , June 19 2018

कलेक्ट्रेट अहाते में 10 हजार रुपए लेते दलाल गिरफ्तार

जिला बदउनवान एंटी दस्ते ने जुमा को कलेक्ट्रेट अहाते से राघोपुर के बीडीओ के नाम पर 10 हजार रुपए लेते एक दलाल को पकड़ लिया। पकड़ा गया दलाल महुआ थाने के मिरजानगर गांव का रहने वाला राकेश कुमार है। उसकी गिरफ्तारी डीएम को मिली खुफिया इत्

जिला बदउनवान एंटी दस्ते ने जुमा को कलेक्ट्रेट अहाते से राघोपुर के बीडीओ के नाम पर 10 हजार रुपए लेते एक दलाल को पकड़ लिया। पकड़ा गया दलाल महुआ थाने के मिरजानगर गांव का रहने वाला राकेश कुमार है। उसकी गिरफ्तारी डीएम को मिली खुफिया इत्तिला की बुनियाद पर की गई।

डीएम विनोद सिंह गुंजियाल ने अपर समाहर्ता डा. उमाशंकर मंडल और एएसपी अरविन्द कुमार गुप्ता की कियादत में टीम की तशकील किया। मिली जानकारी के मुताबिक राघोपुर के बीडीओ के ड्राइवर रंजीत कुमार की तबीयत खराब हो गई थी। उसकी गैर मौजूदगी में महज़ दो दिनों के लिए राकेश कुमार को बतौर ड्राइवर बीडीओ ने रखा। राकेश इसके पहले एक जिला पार्षद के शौहर की गाड़ी चलाता था। हालांकि रंजीत कुमार के काम पर लौटने के बाद राकेश कुमार को हटा दिया गया।

वहां से हटने के बाद राकेश ने बीडीओ के नाम पर दलाली शुरू कर दी। उसने पैक्स इंतिख़ाब की वोटिंग लिस्ट में नाम जोड़वाने और हटवाने के नाम पर राघोपुर के मनोज कुमार से राबता किया। राकेश का कहना है कि बीते 20 सितंबर को मनोज कुमार सिंह ने राघोपुर बीडीओ को देने के लिए कुछ कागजात उसे दिया था। नगर थाने में बंद राकेश कुमार ने मीडिया को बताया कि उसे जुमा को बीडीओ ने फोन पर कहा कि मनोज जो देगा वह ले लेना।

इधर मनोज ने पूरे मामले की जानकारी दरख्वास्त देकर डीएम को दी और बताया कि पैक्स की वोटिंग लिस्ट में नाम जोड़वाने के नाम पर राकेश कुमार 30 हजार रुपए की मांग कर रहा है। उसकी तरफ से कहा जा रहा है कि वह बीडीओ से कहकर लिस्ट में नाम जोड़वा देगा। इस इत्तिला पर टीम की तशकील किया गया। इधर राकेश का कहना है कि वह बीडीओ के कहने पर ही कलेक्ट्रेट अहाते में गया और मनोज कुमार सिंह से 10 हजार रुपए लिए।

मनोज कुमार के दस हजार रुपए पर अपर समाहर्ता का दस्तखत था। एसपी सुरेश प्रसाद चौधरी का कहना है कि पूरे मामले की जांच की जा रही है। पकड़ा गया राकेश कुमार बीडीओ के नाम पर पैसा ले रहा था।

राकेश को गिरफ्तार करने वाली टीम में एएसपी अरविन्द कुमार गुप्ता, वरीय उप समाहर्ता विनय कुमार पांडेय, मजिस्ट्रेट सीमा यादव, नगर थाना सदर जितेन्द्र प्रसाद और कलेक्ट्रेट के कुछ मुलाज़िम शामिल थे।

TOPPOPULARRECENT