Saturday , January 20 2018

कश्मीरियों के लिये फिर बडी मुश्किलें, रोज़ाना पहुँच रहा है एक हज़ार मिर्ची बम !

नई दिल्ली : कश्मीर में जारी हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है । सेना के द्वारा प्रदर्शनकारियों को पैलेट गन से घायल तथा अपने आँखों की रोशनी खो चुके कई कश्मीरियों पर अब मिर्ची बम के इस्तेमाल को लेकर कम कस ली गयी है । कश्मीर घाटी में पैलेट गन का विकल्प बने मिर्ची भरे पावा गोले का इस्तेमाल जल्द शुरू होगा। अधिकारियों के अनुसार, इसके लिए एक हजार मिर्ची बम 5 सितंबर से रोजाना घाटी में भेजा जा रहा है।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल के कश्मीर दौरे से एक दिन पूर्व मिर्ची बम के इस्तेमाल की इजाजत दे दी और इसकी आधिकारिक घोषणा श्रीनगर में अगले दिन की। सूत्रों ने कहा कि कश्मीर घाटी में पैलेट गन का पहली बार इस्तेमाल 2010 में शुरू किया गया था। तत्कालीन संप्रग सरकार ने देश विरोधी प्रदर्शनों से निपटने के लिए इस गन को हथियार के तौर पर आजमाया था।

आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी। उनका कहना है, ‘प्रदर्शनकारियों पर पावा गोले के इस्तेमाल को लेकर सुरक्षा बलों के जवानों को प्रशिक्षित किया जा रहा है।

Facebook पर हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करें

TOPPOPULARRECENT