Monday , May 21 2018

कश्मीरी लड़कियों के बैंड की समाजी साईट्स पर ताईद

श्रीनगर। 3फरवरी (पी टी आई)। समाजी नेटवर्किंग साईट्स पर तमाम गोशों से अव्वलीन मुकम्मल तौर पर लड़कियों के बैंड की जिस का ताल्लुक़ कश्मीर से है, ताईद वसूल होने का सिलसिला शुरू होगया है। मुबय्यना तौर पर उनके फेसबुक सफ़ा पर उन्हें गालिया

श्रीनगर। 3फरवरी (पी टी आई)। समाजी नेटवर्किंग साईट्स पर तमाम गोशों से अव्वलीन मुकम्मल तौर पर लड़कियों के बैंड की जिस का ताल्लुक़ कश्मीर से है, ताईद वसूल होने का सिलसिला शुरू होगया है। मुबय्यना तौर पर उनके फेसबुक सफ़ा पर उन्हें गालियां दी जा रही हैं और नफ़रत अंगेज़ पैग़ामात शाय किए जा रहे हैं, जिससे मूसीक़ी का शोबा मुंतख़ब करने के उनके हक़की ख़िलाफ़वरज़ी होती है।

फेसबुक पर पिछ्ले तीन दिन में तकरीबन तीन सफ़े उसे ही पैग़ामात वसूल होचुके हैं। इन लड़कियों में से तीन स्कूली तालिबात हैं, जिस की वजह से वो नफ़रत फैलाने वाले लोगो की धमकियों से ख़ौफ़ज़दा होगई हैं। उनके बैंड का नाम प्रकाश (रोशनी) है। फेसबुक पर अब तक दो सफ़हात पर मुश्तमिल उनके ताईदी पैग़ामात वसूल होचुके हैं।

प्रकाश कश्मीर का अव्वलीन राक बैंड है जो मुकम्मल तौर पर लड़कियों पर मुश्तमिल है और लोगो में बेइंतिहा मक़बूलियत हासिल करचुका है। उनकी मक़बूलियत से मुतास्सिर होकर दीगर कई इसी किस्म के बैंड भी शुरू किए जा रहे हैं। एक शख़्स कान शर्मा ने अपने पैग़ाम में कहा कि वो इन लड़कियों के साथ है।

उनके जज़बा की पूरे ख़ुलूस के साथ क़दर करता है और ख़ुदा से दा-ए-करता है कि फ़नून-ए-लतीफ़ा के शोबे से ताल्लुक़ रखने वाले लोगो की हिफ़ाज़त करे। इसने कहा कि आप का बैंड भी इन्हीं में से एक है। यही वजह है कि हर शख़्स उन फ़नकारों के साथ है। मुकम्मल तौर पर लड़कियों पर मुश्तमिल राक बैंड पिछ्ले साल दिसम्बर से शौहरत हासिल करचुका है जब कि उन्होंने सालाना मुक़ाबला में अपने फ़न का मुज़ाहरा किया था, लेकिन इससे मर्दाना ग़लबा वाले मूसीक़ी के शोबे पर असरात मुरत्तिब होने का अंदेशा पैदा होगया था।

ऑनलाइन धमकियों से इन लड़कियों के अरकान ख़ानदान परेशान होगए हैं और इन लड़कियों से ये काम तर्क करदेने की ख़ाहिश कररहे हैं।

TOPPOPULARRECENT