Saturday , November 18 2017
Home / India / कश्मीर के हीरो ग़ालिब गुरु को एक ख़ुला ख़त …

कश्मीर के हीरो ग़ालिब गुरु को एक ख़ुला ख़त …

प्यारे ग़ालिब, मैं तुम्हारे बोर्ड इम्तेहान की कामयाबी के लिए तुम्हें मुबारकबाद देता हूँ, ये एक जज़्बाती मौक़ा है ,सिर्फ़ तुम्हारे ख़ानदान के लिए नहीं बल्कि हम सभी के लिए.

मैंने अपनी ज़िन्दगी में नहीं देखा इससे ज़्यादा ख़ुशी कभी 10वीं के रिज़ल्ट को ले कर हुई हो जितनी तुम्हारे रिज़ल्ट को ले कर हुई है.तुमने जो ख़ुशी अपने वालिद और वालदा को दी है उससे पूरा कश्मीर खुश है.

पूरा शहर इस कामयाबी की चर्चा कर रहा है.फेसबुक,ट्विटर, मुसाफ़िर और हर आने जाने वाला तुम्हारे लिए दुआ कर रहा है. आज, हर माँ तुम्हारे ऊपर फ़ख्र कर रही है और चाहती है कि हर बेटा तुम्हारे जैसा बने. तुमने जो पाया है उस पर फ़ख्र करो , हम भी करते हैं.

मुझे पता है कि 95% मार्क्स और 19वीं रैंक लाना आसान नहीं होता और वो भी तब जब कि तुम्हारी ज़िन्दगी इतनी मुश्किल रही है. अपनी म्हणत और लगन से तुमने आज दुनिया को एक सबक़ सिखाया है. इस छोटी सी उम्र में तुमने मुश्किलात से लड़ना सीख लिया है.

तुम्हारे पिता, अफज़ल गुरु जहां भी हैं उनकी आत्मा आज ख़ुश होगी इस छोटे ग़ालिब की कामयाबी पर. उन्हें आज तुम्हारे पिता होने के लिए फ़ख्र हो रहा होगा. एक अच्छे बेटे की तरह तुमने अपनी माँ का सम्मान बढ़ाया. ग़ालिब, ये याद रखो कि ये कामयाबी तुम्हारे मुश्किल सफ़र का ख़ात्मा नहीं बल्कि एक सुनहरे “फ्यूचर” की शुरुवात है. तुम जो भी बनना चाहो – कार्डियोलोजिस्ट, डॉक्टर, क्रिकेटर या स्कोलर, लेकिन सबसे पहले अच्छे बेटे बनो. तुम वो सूरज की रौशनी हो जिसकी वजह से तुम्हारी माँ की ज़िन्दगी हैं. ये तुम्हारी ज़िम्मेदारी है कि तुम अपनी ज़िन्दगी को कामयाबी और करैक्टर से चमकाओ. अपनी अम्मी को इस तरह के और मौक़े दो.वो तुमपे भरोसा करती हैं. उनके साथ रहों, हमेशा.

तुम एक स्टार बेटे हो.कश्मीर इस स्टार को अपने सीने से लगा के फ़ख्र महसूस कर रहा है.

जो मोहब्बत लोग तुम्हें दे रहे हैं ये तुम्हारे हौसले को बढाने का काम करेगी. अपने यक़ीन में मज़बूती रखो, उससे भी पहले अल्लाह और अपनी माँ में यक़ीन.

तुम शायद मुझे न जान पाओ लेकिन मैं उन लाखों लोगों में से हूँ जो इस कामयाबी को मना रहे हैं दुनिया में बहुत कम लोग होते हैं जिनके साथ इतनी दुवाएं होती हैं. ग़ालिब, मुझे यक़ीन है, आज के बाद कश्मीरी बच्चे तुम्हारी मुश्किलात और कामयाबी से हौसला हासिल करेंगे.

तुम सबसे ज़्यादा कामयाब बनो और अल्लाह तुम्हारे कलम में और ताक़त दे और तुम्हें बुराइयों से बचाए. आमीन!

तुम्हारे लिए प्यार …
कश्मीर

(submitted by Mr. Raja Junaid)

TOPPOPULARRECENT