कश्मीर: माजिद के बाद एक और नौजवान ने छोड़ा आतंकवाद का रास्ता

कश्मीर: माजिद के बाद एक और नौजवान ने छोड़ा आतंकवाद का रास्ता
Click for full image

नई दिल्ली। कश्मीर के भटके युवा अब आतंकवाद का रास्ता छोडने लगे हैं। फुटबॉलर माजिद के बाद एक और कश्मीरी युवक ने घरवापसी की है। इस लड़के ने भी आतंकियों का साथ देने की बजाए अपने परिवारों वालों के पास लौटने का फैसला किया।

ऐसे युवकों को जम्मू कश्मीर की पुलिस सेना और सीआरपीएफ हर मुमकिन मदद दे रही है। घाटी के इन दोनों युवाओं ने उन नौजवानों को सही राह दिखाई है जो अपने परिवारों को छोड़कर आतंक की राह पर चल निकले थे।

इनमें से एक है माजिद बेहतरीन फुटबॉलर जिसने तीन दिन पहले बंदूक छोड़कर अपनी मां के आंसू पोछने का फैसला किया और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया तो दूसरा साउथ कश्मीर का सोलह साल का वो लड़का है जिसने कल ही माजिद की तरह दहशतगर्दी से अपना पीछा छुड़ाया और घर लौट आया।

इस अनूठी घरवापसी में जितना हाथ इन नौजवानों के परिवारों का है, उनके मां बाप की दर्दभरी अपील का है उतना ही हाथ पुलिसवालों का भी है जो खुद यही चाहते हैं कि कश्मीरी युवा दहशतगर्दी छोड़ें और मेन स्ट्रीम में लौट आए।

जम्मू कश्मीर के डीजीपी एस पी वैद्य का कहना है कि आपरेशन आल आउट के बाद करीब 60 लड़के को आतंकी रास्ते से हटाया है। उम्मीद है कि आगे भी कामयबा होंगे।

Top Stories