Wednesday , December 13 2017

कश्मीर मामले में मुस्लिम देशों से भारत की बातचीत शुरु

सूत्रों के मुताबिक, जब भारत अपने यहां या इन देशों में अपने पार्टनर्स के साथ फॉरेन ऑफिस स्तर पर सलाह-मशविरा करेगा, तो कश्मीर और आतंकवाद के खिलाफ जंग अहम मुद्दे होंगे। मिसाल के तौर पर विदेश मंत्रालय में सेक्रटरी (ईस्ट) प्रीति सरन इस सिलसिले में पिछले महीने मलेशिया और इंडोनेशिया में थीं। इस्लामी सहयोग संगठन (OIC) के सदस्य देश मलयेशिया और इंडोनेशिया दोनों आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई और कट्टरपंथी ताकतों को खत्म करने के लिए भारत के साथ मिलकर काम कर रहे हैं।

भारत और मलयेशिया ने मदरसा एजुकेशन पर भी पार्टनरशिप करने का फैसला किया है। इसी तरह, सेक्रटरी लेवल के अधिकारी और फॉरेन सर्विस इंस्टिट्यूट के डीन अमरेंद्र खटुआ कश्मीर के डिवलेपमेंट प्रॉजेक्ट्स पर चर्चा के लिए पश्चिमी अफ्रीकी देश नाइजर पहुंचे। नाइजर OIC की सब्सिडियरी इकाइयों में शामिल है। कश्मीर मसले पर OIC देशों के साथ बातचीत के लिए भारत खास कोशिश कर रहा है।

एक सूत्र ने नाम जाहिर नहीं किए जाने की शर्त पर बताया कि दरअसल, कश्मीर मसले पर इन देशों का पहले अलग नजरिया रहा है। 57 देश OIC के मेंबर हैं। इससे जुड़े कई मुल्क भारत के साथ रिश्ते मजबूत कर रहे हैं। हाल में जब विदेश राज्य मंत्री एम. जे. अकबर ने लेबनान, सीरिया और इराक का दौरा किया था, तो इन देशों ने भारत के साथ इकनॉमिक पार्टनरशिप के अलावा सुरक्षा और आतंकवाद के खिलाफ अभियानों में भी सहयोग मांगा।

TOPPOPULARRECENT