Friday , June 22 2018

कश्मीर में अलगाववादी नेताओं को दी जाने वाली सुविधाओं को सरकार छीन सकती है

मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर की आजादी के नाम पर हिंसा को बढ़ावा देने वाले अलगाववादियों की सुविधाएं बंद करने का फैसला किया है। इसके तहत अलगाववादियों को मिलने वाले हवाई टिकट, कश्मीर से बाहर जाने पर होटल और वाहन की सुविधाएं वापस ली गई हैं।

इसके अलावा केंद्र सरकार ने महबूबा सरकार से भी आग्रह किया है कि इनको दी जा रही सारी सुविधाएं बंद की जाएं। जम्मू कश्मीर पुलिस के कुल 950 जवान इन अलगाववादियों की सुरक्षा में तैनात हैं। अब इन पुलिसकर्मियों की वापसी का फैसला प्रदेश सरकार को लेना है। केंद्र के मुताबिक इन अलगाववादियों पर हो रहे खर्च का 90 फीसदी हिस्सा केंद्र सरकार और 10 फीसदी हिस्सा राज्य सरकार उठाती है।

TOPPOPULARRECENT