Sunday , December 17 2017

कश्मीर में फैलती कट्टरता से हालात सीरिया और लीबिया जैसे हो जायेंगे- दिनेश शर्मा

नई दिल्ली। पूर्व आई बी प्रमुख दिनेश्वर शर्मा का कहना है कि वे किसी भी सूरत में इसे भारत का सीरिया नहीं बनने देंगे। उनका मानना है कि घाटी के हालात तनावपूर्ण हैं और सुधार के लिए भगीरथ प्रयास करने होंगे। इसके लिए वह सबसे बातचीत करने को तैयार हैं।

एक विशेष बातचीत में शर्मा ने कहा, कि घाटी में फैलती कट्टरता से एक दिन कश्मीरी समाज ही तबाह हो जाएगा। यदि यही सब चलता रहा तो हालात यमन, सीरिया और लीबिया जैसे हो जाएंगे। लोग आपस में गुट बनाकर लड़ने लगेंगे।

आईबी के पूर्व प्रमुख ने कहा कि कश्मीर की आजादी की बात करने वाले हों या इस्लामिक जिहाद की, आप पाकिस्तान, लीबिया, यमन और अन्य देशों को देख लें।

पता चल जाएगा कि वहां क्या चल रहा है। ये देश दुनिया के सबसे ज्यादा हिसा वाले बन गए हैं। उन्होंने कहा, इसलिए मैं चाहता हूं कि यह भारत में न हो।

कश्मीरियों की हालत से दुखी शर्मा ने कहा, ‘मैं जब कश्मीरियों, खासकर युवाओं को हिसा के रास्ते पर जाता देखता हूं, तो बहुत दुखी हो जाता हूं। कई बार भावुक भी हो जाता हूं। मैं इस हिसा का जल्द अंत चाहता हूं।

इस्लाम के नाम पर कश्मीर के युवाओं को जब जाकिर मूसा (कश्मीर अलकायदा प्रमुख), बुरहान वानी (मारा गया हिज्बुल कमांडर) के रूप में बढ़ते देखता हूं तो बहुत पीड़ा होती है।’

सबसे दोस्ताना ताल्लुकात 2003 से 2005 तक कश्मीर में इस्लामिस्ट टेरेरिज्म डेस्क के इंचार्ज रह चुके पूर्व आइपीएस को आंध्र प्रदेश, केरल व महाराष्ट्र में आतंकी संगठन आइएस (इस्लामिक स्टेट) के प्रभाव को रोकने का जिम्मा सौंपा गया था।

तब उन्होंने किसी को गिरफ्तार करने के बजाए बातचीत के जरिये हालात को काफी हद तक काबू में कर लिया था। अपनी सौम्यता के लिए विख्यात शर्मा गिरफ्तार आतंकियों से भी दोस्ताना ताल्लुकात बनाने से पीछे नहीं हटते।

TOPPOPULARRECENT