कश्मीर में बढ़ाई जा सकती है सेना की तैनाती, AFSPA हटाने का इरादा नहीं- CM महबूबा मुफ्ती

कश्मीर में बढ़ाई जा सकती है सेना की तैनाती,  AFSPA हटाने का इरादा नहीं- CM महबूबा मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने हालात का हवाला देते हुए कश्मीर में AFSPA को हटाने से इनकार कर दिया। मुफ्ती ने भारतीय सेना की तारीफ करते हुए कहा कि यह पूरी दुनिया में ‘सबसे अनुशासित’ है। महबूबा ने कहा कि कश्मीर की बिगड़ती सुरक्षा स्थिति की वजह से घाटी में सेना की तैनाती में इजाफा हुआ है।

CM ने कहा, ‘यदि स्थिति बिगड़ती है, तो सुरक्षा बलों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। अगर आतंकवाद या पत्थरबाजी की घटना में बढ़ोतरी होती है तो आपको पुलिस की संख्या में और अधिक वृद्धि देखने को मिलेगा। हम ऐसा नहीं देखना चाहते हैं।’ मुख्यमंत्री के पास वाले विभागों को अनुदान की मांग पर एक चर्चा के दौरान शनिवार को वह जवाब दे रही थीं।

मार्क्सवादी कम्युनिष्ट पार्टी के विधायक एमवाई तारीगामी द्वारा AFSPA हटाने की मांग करने पर महबूबा ने ऐसा करने से इनकार करते हुए पूछा, ‘क्या ऐसी स्थिति में अफस्पा हटाया जा सकता है?

क्या यह मुमकिन है?’ उन्होंने कहा, ‘भारतीय सेना दुनिया में सबसे ज्यादा अनुशासित है। वे सुरक्षा व्यवस्था बेहतर करने में लगे हुए हैं। उन्हीं की वजह से हमलोग आज यहां पर हैं।

उन्होंने काफी बलिदान दिए हैं।’ वहीं, विधानसभा में मुफ्ती की विपक्ष के नेता उमर अब्दुल्ला के साथ बेहद तीखी नोंक-झोक भी हुई। महबूबा मुफ्ती ने उमर के एक आरोप पर जवाब देते हुए कहा कि कश्मीर को बचाने के लिए वह जहन्नुम में जाने के लिए भी तैयार हैं।

Top Stories