Friday , September 21 2018

कश्मीर में सभी पक्षों से हुई बात, ‘एकता’ और ‘ममता’ से मिलेगी कामयाबी: मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एकता और ममता को कश्मीर समस्या के समाधान के लिए मूल मंत्र बताया और बच्चों को अशांति पैदा करने के लिए उकसाने वालों पर यह कहते हुए नाराजगी जाहिर की कि एक न एक दिन उन लोगों को ‘‘इन बेकसूर’’ बच्चों को जवाब देना ही होगा।

प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि कश्मीर में अगर एक भी व्यक्ति की जान जाती है, चाहे वह कोई युवा हो या सुरक्षा कर्मी हो, तो वह हमारा, हमारे देश का नुकसान है।

मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में घाटी में अशांति के बारे में कहा ‘‘कश्मीर में सभी पक्षों के साथ मेरे संवाद में एक चीज उभरी है जिसे सरल शब्दों में ‘एकता’ और ‘ममता’ कहा जा सकता है। यह दोनों चीजें ही मूल मंत्र हैं।’’ उन्होंने कहा कि कश्मीर पर सभी राजनीतिक दलों ने एक स्वर में बात की है जिससे ‘पूरी दुनिया में, तथा अलगाववादी ताकतों तक संदेश’ पहुंचा है और इसके साथ ही ‘‘कश्मीर के लोगों तक हमारी भावनाएं’’ पहुंची हैं।

प्रधानमंत्री ने इसे संसद द्वारा पारित महत्वपूर्ण जीएसटी विधेयक की राह के समकक्ष रखा। गौरतलब है कि संसद में जीएसटी विधेयक पर सभी राजनीतिक दलों ने एकजुटता दिखाई थी।

(भाषा)

TOPPOPULARRECENT