Tuesday , December 12 2017

कश्मीर में हालात को सुधारने में पीडीपी-बीजेपी गठबंधन नाकाम रही- कांग्रेस

जम्मू। कश्मीर घाटी में बिगड़ते हालात पर चिंता जताते हुए कांग्रेस ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि पिछले सप्ताह हिजबुल आतंकवादी बुरहान वानी की मौत के बाद हुए हिंसक प्रदर्शनों को काबू में कर पाने में पीडीपी नीत गठबंधन सरकार नाकाम रही। कांग्रेस नेता और राज्य मीडिया समन्वयक कपिल सिंह ने कहा, हम कश्मीर घाटी में बिगड़ते हालात पर गहरी चिंता प्रकट करते हैं। पीडीपी-भाजपा गठबंधन सरकार ने हालात को सही से नहीं संभाला और हिंसा को लगातार होने दे रही है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और मंत्रिमंडल में भाजपा के उनके सहयोगी समस्या का पूर्वानुमान नहीं लगा सके जिसकी वजह से मौजूदा हालात बने हैं। सिंह ने दावा किया कि पीडीपी ने भाजपा के साथ गठबंधन करने के बाद हुर्रियत नेताओं के सामने शांति बनाये रखने में मदद की अपील की जिसे हुर्रियत ने साफतौर पर ठुकरा दिया।
उन्होंने कहा, इससे पहले दिवंगत मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से होने देने के लिए पाकिस्तान की तारीफ की थी।

सिंह ने कहा कि ऐसे बयान माहौल बिगाड़ते हैं और राज्य तथा केंद्र में सरकारों की अनदेखी करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा और पीडीपी दोनों के नेताओं को घाटी में रहकर हालात पर नजर रखनी चाहिए, लेकिन वे इसके बजाय जम्मू में डेरा डाले हैं और इसके बाद भी अमरनाथ यात्रा फिर से शुरू नहीं करा पा रहे। सिंह ने कहा कि राज्य सरकार प्रशासनिक, राजनीतिक और सामाजिक मोर्चों पर विफल हुई है।

TOPPOPULARRECENT