Saturday , July 21 2018

कसाब का ही अक्स है दहशतगर्द नावेद

नई दिल्ली. करीब सात साल पहले मुंबई में हुए दहशतगर्दाना हमले के दौरान पकड़े गए आमिर अजमल कसाब के बाद अब दूसरा जिंदा पाकिस्तानी दहशतगर्द सेक्युरिटी फोर्स के हाथ आया है। कसाब से मिलती जुलती शक्ल वाले मुहम्मद नावेद के पकड़े जाने से दहशतगर्द पर पाकिस्तान का खूनी खेल एक बार फिर बेनकाब हो गया है। इन दोनों की बहुत सी बातें भी एक दूसरे से मिलती जुलती हैं।

1. दहशतगर्द मोहम्मद अजमल आमिर कसाब और आतंकी मोहम्मद नावेद याकूब उर्फ कासिम उर्फ उस्मान दोनों ही पाकिस्तान के पंजाब सूबे के बाशिंदे हैं। कसाब फरीदकोट का था और नावेद फैसलाबाद का है।

2. कसाब और नावेद दोनों लश्कर ए तैयबा के दहशतगर्द । कसाब को गुलाम कश्मीर के मुजफ्फराबाद और सिंध सूबे के थïट्टा में दहशतगर्दाना ट्रेनिंग मिली । जबकि नावेद की लश्कर के कैंपों में दो तरह की ट्रेनिंग हुई।

3. कसाब को मुंबई में और नावेद कश्मीर के उधमपुर में लोगों पर गोलीबारी करते उन्हें यरगमाल बनाते हुए जिंदा पकड़ा गया।

4. मुंबई के चौपाटी में भीड़ से पिटने के बीच निहत्थे पुलिस सब इंस्पेक्टर तुकाराम ओम्बले के हाथों गिरफ्तार हुआ। वहीं नावेद को उधमपुर में उसी के यरगमाल बने तीन जांबाज लोगों ने काबू कर पुलिस के हवाले किया।

5. कसाब के गोलीबारी करते सीसीटीवी फुटेज मिलीं और अखबारों में तस्वीरें शाय हुईं। दहशतगर्द नावेद ने मुस्कुरा मुस्कुराकर खुद ही न्यूज चैनल के कैमरे पर अपना जुर्म कबूल लिया।

6. कसाब समुद्र के रास्ते मुंबई में दिगर नौ दहशतगर्दों के साथ घुसा लेकिन बस वही जिंदा पकड़ा गया। नावेद शुमाली कश्मीर के बारामुला के जंगल के रास्ते दिगर चार दहशतगर्दो के साथ हिंदुस्तान में घुसा और जिंदा पकड़ा गया।

7. कसाब और नावेद के पास से एके रायफलें और हैंड ग्रेनेड मिले।

8. दोनों दहशतगर्दो की कद-काठी से लेकर शक्ल और हेयरस्टाइल तक मिलती-जुलती है। इनकी मसावात (Equality) इस हद तक है कि ये देखने में भाई लगते हैं।

9. दोनों ही दहशतगर्द बालिग हैं। दोनों की ही उम्र हमले के वक्त बीस साल के करीब थी।

10. इन दोनों ने ही हमले के वक्त गहरे नीले रंग की शर्ट पहनी थी।

TOPPOPULARRECENT