Friday , December 15 2017

क़तर एय‌रवेज़ के तय्यारा को मैनचेस्टर एय‌र पोर्ट पर उतार लिया गया

एक बर्तानवी लड़ाका जेट तय्यारा ने आज क़तर एयर‌ वेज़ के एक तय्यारा को मैनचेस्टर एयर‌ पोर्ट पर उतरने पर मजबूर कर दिया। इस तय्यारे में जुमला 282 अफ़राद सवार थे क्योंकि इत्तेला मिली थी कि इस में एक इमकानी आ;ह है। क़तर एय‌रवेज़ के तय्यारे

एक बर्तानवी लड़ाका जेट तय्यारा ने आज क़तर एयर‌ वेज़ के एक तय्यारा को मैनचेस्टर एयर‌ पोर्ट पर उतरने पर मजबूर कर दिया। इस तय्यारे में जुमला 282 अफ़राद सवार थे क्योंकि इत्तेला मिली थी कि इस में एक इमकानी आ;ह है। क़तर एय‌रवेज़ के तय्यारे को रह-ए-एयरफ़ोर्स के एक तय्यारे ने एयरपोर्ट पर उतरने पर मजबूर कर दिया क्योंकि पायलेट के ज़रिए इस तय्यारे में किसी आला की तंसीब की इत्तेला मिली थी। ये तय्यारा QR23 दोहा से मैनचेस्टर के लिए आया था और इस ने मैनचेस्टर एयर पोर्ट पर बहिफ़ाज़त लैंडिंग करली। ये लैंडिंग इस के शैडूल से पहले करली गई । तय्यारा में जुमला 269 मुसाफ़िरयन और अमले के 13 अरकान सवार थे। क़तर आवर वेज़ ने अपने एक बयान में ये बात बताई।

एयर‌ लाईन ने कहा कि तय्यारे के अमले को किसी ख़तरे का एहसास हुआ था और मुम्किना तौर पर तय्यारे में एक आ;ह नसब होने की इत्तेला मिली थी और क़तर एय‌र वेज़ ने फ़ौरी तौर पर बर्तानवी हुक्काम को चौकस करने के तमाम एहतियाती इक़दामात किए थे। बयान में कहा गया है कि अमले के अरकान की जानिब से एय‌र पोर्ट पर पुलिस से उनकी तहक़ीक़ात और सवालात के मामले में मुकम्मल तआवुन किया जा रहा है।

बयान के बमूजब मुसाफ़िर यन और अमला के अरकान का तहफ़्फ़ुज़ क़तर एय‌र वेज़ की अव्वलीन तर्जीह है चूँकि ये मामला पुलिस की तहक़ीक़ात का है इस लिए एय‌र वेज़ की जानिब से मज़ीद किसी तरह का तबसरा नहीं किया जा सकता। ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस ने कहा है कि इस के ओहदेदारान उस को एक मुकम्मल हंगामी नौईयत का मामला क़रार देते हुए निमट रहे हैं क्योंकि वो नहीं जानते कि ये ख़तरा किस हद तक दुरुस्त है।

मैनचेस्टर एय‌र पोर्ट पर ओहदेदारों ने एक मुसाफ़िर को तय्यारा से उतार लिया था और इस के बाद ही दूसरे मुसाफ़िर यन को उतरने की इजाज़त दी गई है। एयर‌ पोर्ट पर तक़रीबन 25 मिनट के लिए तमाम परवाज़ों की आमद-ओ-रफ़त को मुअत्तल भी कर दिया गया था । पुलिस महिकमा की जानिब से जारी करदा एक बयान में कहा गया है कि क़तर एय‌र वेज़ के हुक्काम की जानिब से मुकम्मल तआवुन के बाद तेज़ी से कार्रवाई की गई है और अब एयर‌ पोर्ट पर आमद-ओ-रफ़त की तमाम सरगर्मीयां बहाल होगई हैं।

पुलिस की जानिब से ताहम हुनूज़ इस मामले की तहक़ीक़ात का काम किया जा रहा है। मुताल्लिक़ा हुक्काम का कहना है कि उन्होंने मुसाफ़िरयन के तहफ़्फ़ुज़ को यक़ीनी बनाने के मक़सद से ये कार्रवाई की है।

TOPPOPULARRECENT