Saturday , February 24 2018

कांग्रेस क़ाइदीन को मुबाहिसा(वाद विवाद‌) के लिए चैलेंज की म‌ज़म्मत(आलोचना)

हैदराबाद।२३अक्टूबर: ग्रेटर हैदराबाद कांग्रेस कमेटी के नायब सदर जनाब सय्यद क़ादिर अली (हलक़ा अंबर पेट), सिटी कांग्रेस सैक्रेटरी सय्यद अलमबरदार हुसैन (हलक़ा याक़ूत पूरा) ने अपने एक मुशतर्का ब्यान में 21 अक्टूबर को मुहम्मद रहीम अल्

हैदराबाद।२३अक्टूबर: ग्रेटर हैदराबाद कांग्रेस कमेटी के नायब सदर जनाब सय्यद क़ादिर अली (हलक़ा अंबर पेट), सिटी कांग्रेस सैक्रेटरी सय्यद अलमबरदार हुसैन (हलक़ा याक़ूत पूरा) ने अपने एक मुशतर्का ब्यान में 21 अक्टूबर को मुहम्मद रहीम अल्लाह ख़ां नियाज़ी तलगोदीशम लीडर साबिक़ चेयरमैन उर्दू एकेडेमी आंधरा प्रदेश की जानिब से मर्कज़ी वज़ीर-ए-सेहत जनाब ग़ुलाम नबी आज़ाद और साबिक़ा वज़ीर औक़ाफ़ मुहम्मद अली शब्बीर को मुशतर्का प्लेटफार्म से मुबाहिसा का चैलेंज पर शदीद मुज़म्मत करते हुए एहतिजाज किया और कहा कि मुहम्मद रहीम उल्लाह ख़ान नियाज़ी को क़तई हक़ नहीं पहुंचता कि वो मुबाहिसा का चैलेंज करें।

नियाज़ी को चाहीए कि वो दस साल तक सयासी तालीम हासिल करें, बाद में इन क़ाइदीन से चैलेंज करें। सारी रियासत के मुस्लमान अच्छी तरह जानते हैं कि तलगोदीशम हुकूमत के दस साला दौर में हज़ारों मुस्लमानों का क़तल-ए-आम हुआ, एनकाउंटर हुआ, गिरफ्तारियां हुईं, गुजरात फ़सादाद भी तो तलगोदीशम की ही देन है।

चंद्रा बाबू नायडू की पदयात्रा अब उन की आख़िरी यात्रा साबित होगी। कांग्रेस क़ाइदीन ने अपने ब्यान में कहा कि तलगोदीशम लीडर सयासी बेरोज़गारी से ऐसा लगता है कि वो पागल होगई। वो अपनी शौहरत के लिए मुबाहिसा का चैलेंज कररहे हैं। हम हुकूमत से मुतालिबा करते हैं कि नियाज़ी को फ़ौरी पागलख़ाना रवाना कर दिया जाए।

TOPPOPULARRECENT