कांग्रेस कारकुनों में जोश-ओ-ख़रोश पैदा करने की कोशिश

कांग्रेस कारकुनों में जोश-ओ-ख़रोश पैदा करने की कोशिश
प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने रियासत में पार्टी को मुस्तहकम करने और कैडर को मुतहर्रिक करने के लिए इलाक़ाई सतह पर इजलास मुनाक़िद करने से मुताल्लिक़ अपने फैसला पर अमल आवरी का आग़ाज़ करदिया है ।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने रियासत में पार्टी को मुस्तहकम करने और कैडर को मुतहर्रिक करने के लिए इलाक़ाई सतह पर इजलास मुनाक़िद करने से मुताल्लिक़ अपने फैसला पर अमल आवरी का आग़ाज़ करदिया है ।

पार्टी के हालिया तौसीई इजलास में फैसला किया गया था कि इलाक़ाई सतह पर कारकुनों और क़ाइदीन के तौसीई इजलास मुनाक़िद किए जाएंगे। इस सिलसिला का पहला इलाक़ाई तौसीई इजलास 7 जनवरी को विजए वाड़ा में मुनाक़िद होगा जो कि 3 अज़ला कृष्णा , गुंटूर और मग़रिबी गोदावरी के क़ाइदीन और अहम कारकुनों के लिए होगा।

उन्हों ने कहा कि रियासती वज़ीर जबकि हैदराबाद में थे इस तरह का एहतिजाज मुनासिब नहीं है। तेलूगू देशम कारकुनों ने एहतिजाज के दौरान क़ानून को अपने हाथ में लेने की कोशिश की जिस के बाइस पुलिस को कार्रवाई करनी पड़ी।

सदर पी सी सी ने मीडिया के रोल पर भी तन्क़ीद की। उन्हों ने कहा कि क़ानून सब के लिए बराबर है और एहतिजाज भी क़ानून के दायरे में रह कर किया जाना चाहीए । बोतसा सत्यनारायण ने दिल्ली में इजतिमाई इस्मत रेज़ि के वाक़िया की मुज़म्मत करते हुए कहा कि वालदैन को भी चाहीए कि वो अपने बच्चों पर क़ाबू रखें।

Top Stories