Wednesday , January 24 2018

कांग्रेस की तरफ से कोई पहल नहीं की गई जिससे भरोसा बनाए रख सके- नीतीश कुमार

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दौरान खुलकर बोले। उन्होंने कहा कि बिहार में महागठबंधन को जनादेश एक परिवार की सेवा के लिए नहीं मिला था। उन्होंने जोर देकर कहा कि धर्मनिरपेक्षता की आड़ में भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं कर सकते।

नीतीश कुमार ने कहा कि ये लोग अहंकार में जीने वाले हैं, बिहार की जनता ने हमें काम करने के लिए और पूरी पारदर्शिता के लिए जनादेश दिया था। हमने गठबंधन धर्म का पालन करते हुए हर समस्या को दूर करने की पूरी कोशिश की।

इस दौरान कितने अनर्गल बयान दिए गए, हमने सबकुछ झेला। लेकिन अब सबकुछ असहनीय हो रहा था। हमने गठबंधन के साथी दल कांग्रेस से भी बात की।

कांग्रेस को 20 से ज्यादा सीटें नहीं मिलनेवाली थीं। मेरी वजह से इनका आंकड़ा बढ़ा। लेकिन कांग्रेस की तरफ से भी कोई ऐसी पहल नहीं हुई जो भरोसा को बनाए रख सके।

नीतीश कुमार ने कहा कि भ्रष्टाचार के आरोपों पर जब हमने जो भी आरोप लगे हैं उसपर सफाई दीजिए। जनता के सामने तथ्यों को रखिए। लेकिन ये लोग एक्सप्लेन करने के लिए भी तैयार नहीं है। नीतीश कुमार ने कहा कि राजयोग होता है राजभोग नहीं। यहां भोगने के लिए जनता ने हमें नहीं भेजा है।

TOPPOPULARRECENT