कांग्रेस के आज के इजलास में सख़्त फ़ैसलों की वज़ीर-ए-आज़म की वज़ाहत

कांग्रेस के आज के इजलास में सख़्त फ़ैसलों की वज़ीर-ए-आज़म की वज़ाहत
नई दिल्ली, ०९ नवंबर (पीटीआई) रास्त ग़ैरमुल्की सरमाया कारी ( निवेश), डीज़ल की क़ीमत में इज़ाफ़ा और पकवान गैस के सिलेंडर्स की तादाद मुक़र्रर करने के बारे में फ़ैसलों पर तन्क़ीद के पस-ए-मंज़र में वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह इन वजूहात को उजागर कर

नई दिल्ली, ०९ नवंबर (पीटीआई) रास्त ग़ैरमुल्की सरमाया कारी ( निवेश), डीज़ल की क़ीमत में इज़ाफ़ा और पकवान गैस के सिलेंडर्स की तादाद मुक़र्रर करने के बारे में फ़ैसलों पर तन्क़ीद के पस-ए-मंज़र में वज़ीर-ए-आज़म मनमोहन सिंह इन वजूहात को उजागर करेंगे जिन की बिना पर ये सख़्त फ़ैसले किए गए हैं।

कल कांग्रेस की मख़सूस चोटी ( उच्च स्तर की) कान्फ़्रैंस में वो पार्टी क़ाइदीन ( लीडर) से बातचीत करेंगे और उन की गलतफहमियां दूर करने की कोशिश करेंगे। ज़राए के बमूजब ( मुताबिक) वज़ीर-ए-आज़म सूज कुंड में कल कांग्रेस के इजलास के मौक़ा से इस्तिफ़ादा करते हुए पार्टी क़ाइदीन (लीडर) और कारकुनों के सामने वाज़िह करेंगे कि ये फ़ैसले क्यों करने पड़े।

तवक़्क़ो ( उम्मीद) है कि वो इस बात की एहमीयत ज़ाहिर करेंगे कि ये फ़ैसले मुल्क की मईशत ( आर्थिक स्थिति) के लिए ज़रूरी थे जो फ़िलहाल एक आज़माईशी दौर से गुज़र रही है क्योंकि बैन-उल-अक़वामी ( अंतर्राष्ट्रीय) सूरत-ए-हाल और दाख़िली तौर पर मआशी इन्हितात ( कमी) उसी का तक़ाज़ा करता है।

हुकूमत पर 51 फ़ीसद रास्त ( सीधे) ग़ैरमुल्की सरमाया कारी ( निवेश) की रीटेल शोबा में इजाज़त देने, डीज़ल की क़ीमतों में इज़ाफे़ और रियायती क़ीमत पर सरबराह (व्यवस्था/ इंतेज़ाम) किए जाने वाले पकवान गैस सिलेंडरों की सालाना तादाद के ताय्युन( तय किए) के फ़ैसलों की वजह से सख़्त तन्क़ीद की जा रही है।

Top Stories