Thursday , December 14 2017

कांग्रेस के 9 बागी सदस्यों को अध्यक्ष की नोटिस

देहरादून: उत्तराखंड के अध्यक्ष गोविंद सिंह कनजवाल ने कांग्रेस के 9 बागी सदस्यों के खिलाफ आज नोटिस जारी करने और पूछा कि विपक्षी भाजपा से साभाज़ अलावा सत्तारूढ़ कांग्रेस कोड़ा के उल्लंघन पर क्यों न उन्हें सदन सदस्यता से अयोग्य करार दिया जाए। देहरादून प्रशासन ने रविवार को देहरादून के एक अंतरिम हॉस्टल में स्थित इन विधायकों के अपार्टमेंट कारण निन्दा नोटिस पेस्ट किए हैं।

और इन विद्रोहियों को अंदरून सात दिवस जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया गया है। (9) पन्नों इस नोटिस में कांग्रेस के विधायकों विजय बहुगुणा, सुबोध, प्रदीप बनरा, शाईला रानी रावत, हड़क सिंह रावत, कुंवर पुराताउ, शैलेंद्र मोहन सिंघल, ामरयता रावत और उमेश शर्मा से बिंदु ब बिंदु स्पष्टीकरण मांगा गया है।

नोटिस में कहा गया है कि इन सदस्यों ने भाजपा सदस्यों के साथ शामिल होकर सरकार के खिलाफ नारे बाजी की थी और सरकार के विरोध में शिकायत की थी। रावत सरकार शुक्रवार को संकट से ग्रस्त हो गई थी जब भाजपा ने सत्ता पर अपना दावा पेश किया था। 70 सदस्यीय सदन में कांग्रेस के 36 सदस्य हैं।

इसके अलावा इस सरकार को छह स्वतंत्र और दो बीएसपी सदस्यों का समर्थन प्राप्त है। भाजपा के 28 सदस्य हैं जिसने कांग्रेस के 9 विद्रोहियों का समर्थन का दावा किया है। बावर किया जाता कि कांग्रेस के बागी सदस्यों की गतिविधियों देहरादून से नई दिल्ली चली गई हैं।

कुछ सदस्यों ने भाजपा नेताओं से मुलाकात की जबकि अन्य कुछ सदस्यों कांग्रेस हाईकमान से संपर्क में हैं। मुख्यमंत्री रावत ने दावा किया है कि विद्रोही सदस्यों अभी कांग्रेस से इस्तीफा नहीं हुए हैं और भाजपा का समर्थन का दावा गलत है।

TOPPOPULARRECENT