Tuesday , December 19 2017

कांग्रेस को मजलिस की सैक़्यूलर सनद की ज़रूरत नहीं

कांग्रेस रुक्न असेंबली शाह जहां बाशाह ने मजलिस को सिर्फ़ पुराने शहर तक महदूद रहने वाली जमात क़रार दिया और कहा कि कांग्रेस को मजलिस से सैक़्यूलरिज़म का सर्टीफिकट हासिल करने की ज़रूरत नहीं है। अक़लीयतें बिलख़सूस मुस्लमान कांग्र

कांग्रेस रुक्न असेंबली शाह जहां बाशाह ने मजलिस को सिर्फ़ पुराने शहर तक महदूद रहने वाली जमात क़रार दिया और कहा कि कांग्रेस को मजलिस से सैक़्यूलरिज़म का सर्टीफिकट हासिल करने की ज़रूरत नहीं है। अक़लीयतें बिलख़सूस मुस्लमान कांग्रेस के साथ हैं।

असेंबली हलक़ा मदन पली के रुक्न असेंबली शाह जहां बाशाह ने कहा कि 125 साला तारीख़ की हामिल कांग्रेस की बुनियाद सैक़्यूलरिज़म नज़रियात पर रखी गई है। कांग्रेस किसी को ख़ुश करने या किसी की ताईद या इक़तिदार हासिल करने अपने उसूलों और सैक़्यूलर नज़रियात से इन्हिराफ़ नहीं करेगी।

तहफ़्फुज़ात कांग्रेस का कारनामा है, कांग्रेस का सैक़्यूलरिज़म शकूक से बालातर है। उन्हों ने कहा कि अगर मजलिस रियासत में हुकूमत के ख़िलाफ़ मुहिम चलाएगी तो हम भी ख़ामोश नहीं बैठेंगे,
बल्कि कांग्रेस के 8 साला दौर हुक्मरानी में अक़लीयतों के लिए जो इक़दामात किए गए हैं, इसकी बड़े पैमाने पर तशहीर की जाएगी और अवाम को हक़ायक़ से वाक़िफ़ करायेंगे ।

TOPPOPULARRECENT